नक्सल क्षेत्रों में तैनात जवानो पर भी कहर ढा रहा नवतपा, पारा 42 डिग्री पार

नक्सल क्षेत्रों में तैनात जवानो पर भी कहर ढा रहा नवतपा, पारा 42 डिग्री पार

Deepak Sahu | Updated: 27 May 2019, 05:29:15 PM (IST) Dantewada, Dantewada, Chhattisgarh, India

तेज गर्मी से नक्सली मोर्चा (Naxalite front) के जवान भी अछूते नहीं हैं। नवतपा (Navtapa) के पहले ही दिन सर्चिंग पर निकले डीआरजी (DRG) और एसटीएफ (STF) के आधा दर्जन से अधिक जवान हिट स्‍ट्रोक (Heat Stroke) के शिकार हो गए थे

दंतेवाड़ा. जिले में इन दिनों भीषण गर्मी के साथ सूर्य देवता का रौद्र रूप देखने को मिल रहा है। पारा लगातार चढ़ता जा रहा है। प्रदेश के अन्य जगहों की तरह दक्षिण बस्तर अंचल (Bastar zone) में भी भीषण गर्मी का कहर जारी है। बढ़ते तापमान के कारण पारा 42 डिग्री से पार हो गया है।

नवतपा (Navtapa) के शुरू होने का बाद से ही पारे को चढ़ता देख लोगो के मन मे आशंकाओं ने जन्म लेना शुरू कर दिया है कि कही नगर का इस तरह बढ़ रहा तापमान कोई नया रिकॉर्ड न बना दे।

लोग हो रहे बीमार

जिला अस्पताल में तापमान बढ़ने और लू लगने के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। लोग उल्टी दस्त और सिर दर्द से परेशान होकर रोज 100-200 मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं।

जवानो भी बुरा हाल

तेज गर्मी से नक्‍सल मोर्चा के जवान भी अछूते नहीं हैं। नवतपा के पहले ही दिन सर्चिंग पर निकले डीआरजी और एसटीएफ के आधा दर्जन से अधिक जवान हिट स्‍ट्रोक (Heat Stroke) के शिकार हो गए थे। जिन्‍हें बारसूर में प्राथमिक उपचार दिया गया।

तीन जवानों की हालत ज्‍यादा खराब होने पर उन्‍हें जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ और डीआरजी के जवानों की टोली बारसूर इलाके में आपरेशन के लिए बीती रात निकली थी। शनिवार को नक्‍सलियों के ठिकाने ढूंढते जंगल और पहाड़ों पर लगातार चल रहे थे।

इसी दौरान दोपहर में आधा दर्जन से अधिक जवानों की तबियत अचानक बिगड़ गई।बारसूर स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में उनका उपचार किया गया। कुछ को इंजेक्शन तो कुछ को सलाइन लगानी पड़ी। तीन जवान कुटुंबराज, सुकमन भास्‍कर और पीड़ोराम कडि़याम की तबियत ज्‍यादा बिगड़ने से उन्‍हें बारसूर से जिला हास्पिटल रिफर किया गया। जिनका उपचार हॉस्पिटल में चल रहा है।

अन्‍य जवानों को ओपीडी में जांच और दवा देकर कैंप भेज दिया गया। डॉक्‍टरों के अनुसार तेज गर्मी की वजह से जवान हिट स्‍ट्रोक के शिकार हुई। खतरे जैसी कोई बात नहीं।अन्‍य जवानों को भी ऐहतियात बरतने की सलाह दी गई है।

गांव से लेकर शहर तक सब है त्रस्त

कूलर पंखे ऐसी ने काम करना बंद कर दिया है और लोगों का गर्मी के कारण बुरा हाल है।जिला प्रशासन द्वारा कलेक्टर टोपेस्वर वर्मा ने दिशा निर्देश दे दिए हैं और टीम गठित कर दी गई है जिससे लोगों को कोई परेशानी ना हो सके।

जिला अस्पताल आने वाले मरीजों के लिए विशेष प्रबंध किए गए और कोई परेशानी ना हो सके जिसके लिए 108-102 महतारी एक्सप्रेस की टीम निरंतर कार्य कर रही है जिससे लोगों को जल्द से जल्द चिकित्सकीय सुविधा मिल सके।

मड़ई मेले पर भी पड़ा प्रभाव

दंतेवाड़ा के गीदम ब्लॉक में मई के महीने में प्रसिद्ध मेला मड़ई में शामिल होने के लिए काफी दूर दराज के लोग अपने देवी - देवताओं के साथ नगर पहुचते है। लेकिन तापमान में वृद्धि के कारण इस बार कम लोगो के पहुचने की उम्मीद जताई जा रही है । भीषण गर्मी के चलते लोग घरों में नहीं निकल रहे है। इस साल नगर पालिका के द्वारा सार्वजनिक प्याऊ की व्यवस्था की गयी है।

इन बातों का रखें ख़याल

डॉक्टरों की माने तो गर्मी के मौसम विशेष रूप से नौतपा (Navtapa) के दौरान तेल व मसालेदार भोजन करने से बचना चाहिये । तरल पदार्थों का उपयोग ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए। पानी ज्यादा पीना चाहिये और धूप में कम ही निकलना चाहिये। जरूरी काम होने से बाहर निकलने पर चेहरे को ढक लेना चाहिये और धूप के चश्मे का उपयोग अवश्य करना चाहिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned