ओलावृष्टि व बारिश से फसलें बर्बाद, खेतों में बिछीं

ठकुरपुरा तिराहे पर किसानों का प्रदर्शन

Crop wasted due to hail and rain, spread in the fields, news in hindi, mp news, datia news

By: संजय तोमर

Published: 01 Mar 2020, 10:38 PM IST

दतिया/जिगना/बसई. जिले में शनिवार की रात मौसम में आए अचानक परिवर्तन ने किसान खासे परेशानी में आ गए। बारिश, ओलावृष्टि एवं आंधी की वजह से किसानों की खेतों में खड़ी फसल लोट गई है। किसानों के अनुसार इस प्राकृतिक आपदा से उनकी ८० प्रतिशत फसल नष्ट हुई है। आंधी, बारिश एवं ओलावृष्टि से बसई क्षेत्र के गांवों में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। बसई में रात में आई आंधी, बारिश व ओलावृष्टि के बाद रविवार को किसानों ने ठकुरपुरा तिराहा पर चक्काजाम किया। थाना प्रभारी द्वारा आश्वासन दिए जाने के बाद किसानों ने जाम खोला।

शनिवार रात जिले में अचानक मौसम में परिवर्तन आ गया। पहले आंधी चली इसके बाद बारिश हुई और फिर तेज हवा व आंधी चली। दतिया तहसील के ग्राम चिरूला सरपंच प्रतिनिधि रामलाल ने बताया कि उनके गांव में बारिश के साथ चने के आकार के ओले गिरे हैं। आंधी, बारिश एवं ओलों से खेतों में खड़ी फसल लोट गई है। आनंद यादव ने बताया, ग्राम गरेरा व धुबया में बारिश के साथ चने के आकार के ओलों से फसलों को नुकसान हुआ है किंतु मौके पर कोई अधिकारी नहीं आया।

किसानों को पुलिस ने दी समझाइश
शनिवार रात बसई क्षेत्र के ग्राम वरधुवां, ठकुरपुरा, नयाखेड़ा, जैतपुर, हिम्मतपुर, बसई, उर्दना, सांकुली, सतलौन आदि गांवों में बारिश, ओलावृष्टि एवं आंधी से किसानों की फसलों को ८० प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। फसलों को प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान का मुआवजा दिलाए जाने की मांग को लेकर किसानों ने ठकुरपुरा तिराहा पर जाम लगा दिया। जानकारी मिलने पर थाना प्रभारी हरेंद्र सिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे तथा किसानों को आश्वासन दिया कि उनकी तहसीलदार से बात हो गई हैं। तहसीलदार क्षेत्र में आ रहे हैं इसलिए आप जाम खोल दें। करीब दो घंटे बाद किसानों ने जाम खोल दिया। दोपहर बाद नायब तहसीलदार दीपक भदौरिया ने क्षेत्र में पहुंच कर गांवों का दौरा किया और फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया। जिगना में आकाशीय बिजली गिरने से भैंस की मौत : शनिवार की रात जिगना सहित आसपास के करीब २० गांवों में बारिश व आंधी चलने से गेहूं, चना, सरसों, मटर, मसूर की फसल खेतों में लोट गई। वहीं ग्राम नुनवाहा में आकाशीय बिजली गिरने से ग्रामीण गोविंद सिंह यादव की भैंस की मौत हो गई।

बसई में ज्यादा नुकसान हुआ
एसडीएम वीरेंद्र सिंह बघेल का कहना है कि बारिश तो पूरे जिले में हुई है। बसई में ओलों की जानकारी आई है वहां के ठकुरपुरा गांव में ज्यादा नुकसान है। बसई में पहले भी नुकसान हुआ था। नायब तहसीलदार वहां गए हैं जल्द ही रिपोर्ट बना कर देंगे कि किसानों का कितना नुकसान हुआ है। ग्राम निचरौली, परासरी, हिनोतिया, चितुवां, फुलरा तो मैं खुद गया था वहां ज्यादा नुकसान नहीं है। जिन किसानों ने लेट बोवनी की है उनका नुकसान ज्यादा नहीं है। पटवारियों से मौका मुआयना करने के लिए कहा है और भी स्थानों से रिपोर्ट आ रहीं हैं।

संजय तोमर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned