पंडोखर सरकार समेत साथियों की गिरफ्तारी के लिए थाने पर प्रदर्शन , दस गांव के लोग पहुंचे थाने

datia district village people demand for pandokhar sarkar arrest : पण्डोखर थाना पहुंचकर गुरूशरण की गिरफ्तारी की मांग करते ग्रामीणजन, थाने के बाहर मौजूद ग्रामीणजन प्रदर्शन करते हुए....

By: Gaurav Sen

Published: 01 Mar 2020, 12:08 PM IST

दतिया. हत्या के प्रयास, लूट समेत अन्य धाराओं में आरोपी जनपद पंचायत भांडेर के उपाध्यक्ष गुरुशरण शर्मा उर्फ पंडोखर सरकार समेत उनके साथियों की गिरफ्तारी के लिए करीब एक सैकड़ा लोग शनिवार को थाने जा पहुंचे । उन्होंने थाने का शांतिपूर्वक घेराव कर आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। नारेबाजी कर प्रदर्शन करने वालों में आसपास के दस गांवों के करीब एक सैकड़ा लोग मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि बीते 2 फ रवरी की रात पंडोखर थाना क्षेत्र के पाल ढाबा पर खाना खाते समय पटवारी अंकित पाराशर एवं उसके एक दोस्त की रामजी शर्मा और विनोद शर्मा समेत कुछ अज्ञात लोगों ने लाठी-डंडों से मारपीट कर दी थी और बाद में कार में डालकर पंडोखर मंदिर ले गए थे। अंकित पाराशर एवं उसके दोस्त की गुरुशरण शर्मा द्वारा और सभी आरोपियों द्वारा मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया था। पटवारी की तरफ से आरोपियों के विरुद्ध पंडोखर थाने में रिपोर्ट दर्ज करा कर हत्या के प्रयास, लूट समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। इस मामले के सभी आरोपी फ रार चल रहे हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर शनिवार की दोपहर 12 बजे बरचोली, देवरा , धर्मपुरा ,खजूरी , बड़ेरा, सोफ्ता , चंदरोल, तिघरा , नटर्रा समेत दस गांव के करीब दो सौ लोग पंडोखर थाने जा पहुंचे। लोगों ने इसके लिए पहले ही कलेक्टर से अनुमति ले ली थी।

दहशत में जी रहा पीडि़त परिवार
प्रदर्शन करते हुए अंकित पाराशर के साथ आए सैकड़ों ग्रामीणों ने आरोपी गुरुशरण महाराज एवं उनके भाई और बहनों की गिरफ्तारी हेतु नारेबाजी कर प्रदर्शन किया और गिरफ्तारी की मांग की। अंकित के पिता मनोज पाराशर और भाई ने बताया कि बीते दिनों पंडोखर रोड पर स्थापित पाल ढाबा पर मारपीट की घटना के पश्चात से सभी आरोपी फरार हैं और मामला दर्ज करने के बाद भी पुलिस अभी तक उनको गिरफ्तार नहीं कर सकी है। परिजवों का आरोप था कि पुलिस प पंडोखर महाराज गुरु शरण शर्मा एवं उनके भाई और बहनों को गिरफ्तार करने में लापरवाही बरत रही है। आरोप था कि अंकित पाराशर और पूरे परिवार जनों को राजीनामा करने हेतु दबाव बनाया जा रहा है और राजीनामा नही करने पर एक बड़ी घटना को अंजाम देते हुए जान से मारने की धमकी दी जा रही है। परिवार डर के साए में जी रहा है। शनिवार को चार घंटे तक प्रदर्शन करने के बाद मौके पर एसडीओपी मोहित यादव ने मौके पर पहुंचकर ज्ञापन लिया। उन्हें समझाइश दी कि जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

थाने पर कुछ लोग आए थे। उन्होंने पंडोखर सरकार समेत अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर ज्ञापन दिया है। उन्हें कहा है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लेंगे।
मोहित यादव , एसडीओपी , भांडेर

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned