डिलीवरी अस्पताल के बरामदे में ड्यूटी से गायब थीं डॉक्टर


कमिश्नर की चेतावनी बेअसर

Doctors were missing from duty in the verandah of the delivery hospital, news in hindi, mp news,datia news

By: संजय तोमर

Updated: 02 Aug 2020, 11:32 PM IST

दतिया. कमिश्नर के आदेशों को डॉक्टर कोई तबज्जो नहीं दे रहे हैं। शुक्रवार को कमिश्रर डॉक्टरों को चेतावनी देकर गए थे कि ड्यूटी में लापरवाही बरतने वालों पर कार्यवाही की जाएगी। रविवार को जिला चिकित्सालय के बरामदे में एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया। इस दौरान ड्यूटी डॉक्टर नदारद थीं तथा ऑन कॉल डॉक्टर भी समय से अस्पताल नहीं पहुंची।

अपर कलेक्टर ने कहा कि संबंधित डॉक्टरों पर कार्यवाही के लिए कमिश्रर को प्रस्ताव बना कर भेजा जा रहा है।रविवार को गोराघाट क्षेत्र के राकेश रावत की पत्नी किरण को प्रसव पीड़ा हुई। प्रसव पीड़ा होने पर परिजन उसे निजी वाहन से लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे। प्रसूता करीब पौने तीन बजे जिला चिकित्सालय पहुंची और वार्ड में शिफ्ट होने से पहले ही उसने बरामदे में बच्चे को जन्म दे दिया।

लेवर रूम में सूचना मिलने पर थोड़ी देर में ड्यूटी पर मौजूद सिस्टर दीक्षा एड़े एवं संसारा कांवरे वहां पहुंची। उन्होने जच्चा - बच्चा को लेवर रूम में ले जाकर उनकी नाल काटी तथा वार्ड में शिफ्ट किया। जच्चा - बच्चा दोनों स्वस्थ बताए गए हैं।ड्यूटी से नदारद मिलीं डॉक्टरप्रसूता के अस्पताल के बरामदे में दर्द से तड़पने और प्रसव के होने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। जानकारी मिलते ही अपर कलेक्टर विवेक रघुवंशी जिला चिकित्सालय पहुंचे और उन्होने पूरे मामले की जानकारी ली।

इस दौरान पता चला कि ड्यूटी डॉक्टर जयंती बरेठिया दो दिन से बिना बताए गायब हैं। अपर कलेक्टर ने सिविल सर्जन से ऑन कॉल डॉक्टर के बारे में पूछा तो उन्होने बताया कि डॉ निधि अग्रवाल को फोन किया था तो उन्होने गाड़ी भेजने के लिए कहा। इस घटनाक्रम में खास बात यह है कि अस्पताल के बरामदे में प्रसव होने की जानकारी मिलने पर अपर कलेक्टर पहले पहुंच गए और ऑन कॉल ड्यूटी डॉक्टर निधि अग्रवाल कॉल करने व गाड़ी भेजने के बाद करीब चार बजे यानि सवा घंटे बाद अस्पताल पहुंची। डॉक्टर के अनाधिकृत रूप से गायब रहने तथा इस संबंध में कार्यवाही न करने पर अपर कलेक्टर ने सिविल सर्जन को फटकार लगाई।्रडॉक्टरों पर कार्यवाही का प्रस्ताव भेजा हैअपर कलेक्टर विवेक रघुवंशी ने बताया कि अस्पताल के बरामदे में महिला का प्रसव होने के बारे में संबंधितों के बयान लिए हैं। उन्होने बताया कि इस संबंध में कार्यवाही के लिए कमिश्नर को प्रस्ताव भेजा जा रहा है।

संजय तोमर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned