भगवान कार्तिकेय की मूर्ति अज्ञात लोगों ने की क्षतिग्रस्त

भगवान कार्तिकेय की मूर्ति अज्ञात लोगों ने की क्षतिग्रस्त

monu sahu | Publish: Feb, 14 2018 11:02:06 PM (IST) Datia, Madhya Pradesh, India

एक दिन पहले ही स्थापित की भगवान कार्तिकेय की मूर्ति अज्ञात लोगों ने खंडित कर दी।

भांडेर. एक दिन पहले ही स्थापित की भगवान कार्तिकेय की मूर्ति अज्ञात लोगों ने खंडित कर दी। घटना की सूचना मिलने पर श्रद्धालु व स्थापना कराने वाले मौके पर पहुंचें । पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस व फरियादी की मदद से मूर्ति को थाने लाया गया। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
जानकारी के अनुसार चिरगांव रोड स्थित शिव मंदिर परिसर में ही रामकुमार रजक ने मंगलवार को महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में शिव के पुत्र भगवान कार्तिकेय की स्थापना की थी। लेकिन एक दिन बाद ही अज्ञात लोगों ने उसे खंडित कर दिया।

 

मूर्ति के दाहिने हाथ की उंंगली तोड़ दी गई और मूर्ति जगह से भी उखाड़ दी । घटना सोम-मंगलवार की दरमियानी रात की है। सूचना मिलने पर भांडेर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मूर्ति को अपने कब्जे में किया। फरियादी के मुताबिक सफेद पत्थर की मूर्ति उसने एक दिन पहले ही स्थापित कराई थी। पुलिस ने फिलहाल अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें

BSF के इस जवान की मिली ऐसी मौत,जिसे सुनकर हैरान रह गया हर कोई

 


हनुमान जी का मंदिर ही खोद दिया था


भांडेर क्षेत्र में मूर्ति खंडित करने की दो साल में यह चौथी घटना है। दो साल पहले पुरानी सब्जी मंडी में अज्ञात लोगों ने शिव प्रतिमा को खंडित कर दिया था। वहीं उसी वक्त अस्पताल के पीछे स्थित शिव मंदिर में स्थापित भगवान शिव की मूर्ति को खंडित कर दिया था। इतना ही नहीं दफीना निकालने के फेर में कुछ अज्ञात लोगों ने चिरगांव रोज पर स्थित हनुमान मंदिर को ही खोद डाला था। आशंका जताई जा रही है कि कहीं मूर्ति खंडित करने का खेल या मूर्ति उखाडऩे का खेल दफीने के फेर में ही तो नहीं किया जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned