खौफनाक! घर से सामान लाने निकला मासूम, रास्ते में रोककर युवक ने चाकूओं से गोदा

झांसी में इलाज के दौरान मासूम बच्चे की मौत

By: Muneshwar Kumar

Published: 01 Mar 2020, 03:41 PM IST


दतिया/ रविवार के दिन दतिया शहर में एक सिरफिरे ने खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। घर से सामान लाने निकले एक पांच वर्षीय बालक पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। उसके बाद परिजन उसे लेकर झांसी भागे, जहां मासूम की मौत हो गई है। वहीं सिरफिरे को पकड़कर लोगों ने पुलिस के हवाले कर दिया है। घटना के बाद मोहल्ले में कोहराम मचा हुआ है।


दरअसल, दतिया के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी स्थित झांसी रोड पर रहने वाला अनुक्लप भारती घर से कुछ सामान लाने के लिए निकला था। तभी मोहल्ले में प्रवीण पटेरिया नाम का युवक ने उसे रोक लिया। युवक ने फिर मासूम के चेहरे और गर्दन पर चाकूओं से वार कर दिया। उसने चाकू से कई ताबड़तोड़ वार किए। तस्वीर इतना खौफनाक है कि हम आपको दिखा नहीं सकते हैं।


स्थानीय लोगों ने बचाया
सिरफिरा मासूम बच्चे के ऊपर बेरहमी से चाकूओं से वार कर रहा था। तभी स्थानीय लोगों ने बालक को उसके चंगुल से बचाया। उसके बाद परिजन अस्पताल लेकर भागे लेकिन उसकी जान नहीं बच पाई। चेहरे और गर्दन पर दर्जन भर जख्म के निशान थे। अस्पताल में डॉक्टरों ने बालक को मृत घोषित कर दिया है। कोतवाली पुलिस आरोपी से थाने में पूछताछ कर रही है।


खराब है दिमाग
वहीं, स्थानीय लोगों के अनुसार बच्चे या उसके परिवार के लोगों की किसी से भी दुश्मनी नहीं थी। कुछ लोगों का कहना है कि आरोपी प्रवीण पटेरिया मानसिक रूप से बीमार है। ऐसे में सवाल यह भी उठ रहा है कि जब वह पागल था तो फिर घर के लोगों ने उसे खुलेआम घुमने के लिए क्यों छोड़ दिया था। अगर वह चाकू लेकर घर से बाहर नहीं निकलता तो शायद मासूम बच्चे की जिंदगी बच सकती थी।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned