बार-बार बुलाने पर भी नहीं पहुंचे तहसीलदार, गृहमंत्री ने मंच से ही किया सस्पेंड, देखें वीडियो

मंत्री ने मंच से बार-बार तहसीलदार व तहसील के अधिकारियों को बुलाया, किसी के न आने पर मंच से ही तहसीलदार को किया सस्पेंड..

By: Shailendra Sharma

Published: 31 Jan 2021, 05:06 PM IST

दतिया. मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा दतिया दौरे के दौरान नायक अवतार में नजर आए। बड़ोनी में राशन पात्रता पर्ची वितरण कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे गृहमंत्री ने ग्रामीणों की शिकायतें सुनने के बाद लापरवाही बरतने वाले बड़ोनी तहसीलदार को मंच से ही सस्पेंड कर दिया। गृहमंत्री के इस एक्शन से एक तरफ जहां ग्रामीणों ने तालियां बजाईं तो वहीं दूसरी तरफ प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। गृहमंत्री ने कहा कि समाज के वंचित व कमजोर वर्गों के लिए सरकार की ओर से चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के अमल में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

देखें वीडियो-

मंच से तहसीलदार को किया सस्पेंड
बड़ोनी में राशन पात्रता पर्ची वितरण कार्यक्रम में पहुंचे गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को ग्रामीणों ने राजस्व और पात्रता पर्ची से जुड़ी शिकायतें सौंपी थीं। शिकायतें मिलने के बाद गृहमंत्री ने उनके निराकरण के लिए मंच से माइक संभालने के बाद तहसीलदार को बुलाया। तहसीलदार के साथ ही उन्होंने तहसील से जुड़े दूसरे अधिकारियों को भी मंच से पुकारा लेकिन जब कोई भी अधिकारी और तहसीलदार मौके पर नहीं पहुंचा तो उन्होंने मंच से ही बड़ौनी तहसीलदार सुनील वर्मा को सस्पेंड करने के निर्देश दे डाला। गृहमंत्री ने जैसे ही तहसीलदार को मंच से सस्पेंड करने का निर्देश दिया तो वहां मौजूद लोगों ने जमकर तालियां बजाकर गृहमंत्री के फैसले का स्वागत किया।

 

गृहमंत्री ने कहा- 'लापरवाही बर्दाश्त नहीं'
बड़ोनी तहसीलदार सुनील वर्मा को मंच से सस्पेंड करने के निर्देश देने के बाद गृहमंत्री ने तहसीलदार व तहसील के अधिकारियों की गैर मौजूदगी पर नाराजगी भी जाहिर की। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि समाज के वंचित एवं कमजोर वर्गों के लिए सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के अमल में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

 

प्रोटोकॉल का पालन न करने पर भी अधिकारी हुए सस्पेंड
बता दें कि बीते कुछ दिनों में अधिकारियों पर तुरंत निलंबन की कार्रवाई किए जाने का प्रदेश का ये दूसरा मामला है इससे पहले सागर में मंत्री गोपाल भार्गव के दौरे के दौरान प्रोटोकॉल का पालन न करने के कारण अनुविभागीय अधिकारी जेएम तिवारी और कार्यपालन यंत्री हरिशंकर जायसवाल को सस्पेंड किया गया था। तब दोनों अधिकारी मंत्री के सागर सर्किट हाउस पर पहुंचने पर उन्हें रिसीव करने के लिए नहीं पहुंचे थे।

देखें वीडियो-

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned