अब जिला चिकित्सालय में हो सकेगी सर्वाइकल कैंसर की जांच

मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने प्रदान की मरीजों को दस लाख की लागत की मशीन

दतिया. जिले में अब महिलाओं के सर्वाइकल (बच्चेदारी के मुख) कैंसर की जांच स्थानीय स्तर पर ही हो सकेगी। इसके लिए दतिया मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने जिला चिकित्सालय के स्त्री एवं प्रसू्ति रोग विभाग के लिए यह मशीन प्रदान कर दी है। बुधवार को इस मशीन से जांच भी शुरू हो गई है।


अब तक बच्चेदानी के मुख के कैंसर की जांच के लिए पीडि़ताओं को अन्य शहरों की ओर जाना पड़ता था । या फिर उन्हें निजी अस्पताल व जांच केन्द्रों का सहारा लेना पड़ता था पर अब जिला चिकित्सालय में बच्चेदानी के कैंसर की प्र्रारंभ में ही जांच हो सकेगी। इसके लिए दतिया मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. राजेश गौर व जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डॉ . एसएन शाक्य के प्रयासों से इस मशीन को जिला चिकित्सालय में स्थापित किया है। कॉलपोस्कोपी नाम की इस मशीन से अब महिलाओं की जांच दतिया में ही हो जाएंगी। इसके साथ ही उनका इलाज हो सकेगा। बुधवार को कोरोना संंक्रमण के चलते तय गाइडलइन के प्रावधानों का पालन करते हुए दतिया मेडिकल कॉलेज की स्त्री एवं प्रसूति रोग विभागाध्यक्ष व प्रोफेसर डॉ. श्वेता यादव ने एक महिला की जांच कर इसका विधिवत शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि बच्चेदानी के मुख की यह जांच फिलहाल नि:शुल्क होगी।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned