अब लोगों को फॉल्ट की समस्या से मिलेगी मुक्ति

18 करोड़ की लागत से होगा केबल व खंभे बदलने का कार्य

By: monu sahu

Published: 20 Jan 2018, 11:01 PM IST

अविनाश खरे

दतिया. अब जल्द ही लोगों को आए दिन फॉल्ट होने की समस्या से मुक्ति मिलेगी। इसके लिए जल्द ही विद्युत वितरण कंपनी द्वारा आईपीडीएस (इंटीग्रेटेड पावर डवलपमेंट सिस्टम) योजना के तहत शहरी क्षेत्र में केबलीकरण व खंभे बदलने का कार्य किया जाएगा। इस कार्य के लिए कंपनी भी चिह्नित कर ली गई है और कंपनी द्वारा शहरी क्षेत्र में जहां-जहां केबलीकरण कार्य होना है उन स्थानों का सर्वे कर लिया है।

जिले में बिजली की अटल ज्योति पूरे 24 घंटे नहीं जल पा रही थी। कभी मेंटेनेंस तो कभी फाल्ट अटल ज्योति को नहीं जलने दे रहे थे। सर्दी के मौसम में बिजली की खपत अधिक होने से आए दिन फॉल्ट की समस्या से लोगों को बिजली गुल होने के कारण समस्या से दो चार होना पड़ रहा था। सर्दी के जाने के बाद गर्मी के मौसम में भी बिजली की खपत ज्यादा बढ़ जाती है।

गर्मी अधिक होने की वजह से लोग पल भर के लिए बिना कूलर-पंखो व एसी के नहीं रह पाते है। अगर ऐसे में बिजली गुल हो जाए तो लोगों की मानो जान ही निकल जाती है। ऐसे में फॉल्ट होने से बिजली के गुल हो जाने के बाद बिजली आने का इंतजार करने के अलावा लोगों के पास कोई विकल्प नहीं होता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। इन सभी समस्याओं का विद्युत विभाग ने ध्यान रखते हुए शहरी क्षेत्र में केबलीकरण व खंबे बदलने तथा जहां लोड अधिक है और ट्रांसफार्मर कम पावर के रखे हुए है उनको बदलने का काम शीघ्र ही प्रारंभ किया जाएगा।

18 करोड़ की लागत से होगा काम

आईपीडीएस योजना के तहत शीघ्र ही शहरी क्षेत्र दतिया, सेंवढ़ा, भाण्डेर सहित इंदरगढ़ में 18 करोड़ की लागत से केबलीकरण एवं खंबे बदलने का कार्य किया जाएगा। इसके लिए विद्युत वितरण कंपनी कार्यालय दतिया ने प्रपोजल बनाकर वरिष्ठ कार्यालय भेजा गया था। वरिष्ठ कार्यालय द्वारा इस कार्य को संपन्न करने के लिए दो कंपनियों को निर्धारित किया है। कंपनियों द्वारा शहरी क्षेत्र में सर्वे का काम भी पूरा कर लिया है।

शहरी क्षेत्र दतिया, सेंवढ़ा, भाण्डेर एवं इंदरगढ़ में आईपीडीएस योजना के तहत १८ करोड़ की लागत से केबलीकरण एवं ट्रांसफार्मर बदलने का कार्य किया जाना है। इसके लिए वरिष्ठ कार्यालय से दो कंपनियों का कार्य सौंपा गया है। शीघ्र ही कंपनियों द्वारा कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा।

संदीप अग्रवाल, सहायक प्रबंधक मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी

monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned