दूल्हा-दुल्हन, परिजन सब माने, पहले हराएंगे कोरोना फिर करेंगे शादी

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत की सक्रियता से ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने दिखाई सजगता, एक दर्जन शादियां टलीं

दतिया. मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत गिरिराज दुबे द्वारा कोरोना की चेन तोडऩे के लिए चलाए जा रहे अभियान का असर दिखने लगा है। सीइओ की समझाइश पर दो दिन में एक दर्जन ग्रामीणों ने अपने बेटे-बेटियों की शादियों को फिलहाल स्थगित कर दिया है। सभी का मानना है कि पहले हमें कोरोना को हराना है। कोरोना संक्रमण की वजह से स्थगित हुए शादी समारोह अब आगामी तिथियों में होंगे।


कोरोना को हराने के लिए सीइओ गिरिराज दुबे द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में अभियान चलाया जा रहा है। सीइओ द्वारा लोगों को जागरुक किया जा रहा है कि वह कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए आगामी दिनों में होने वाले विवाह समारोहों को स्थगित रखें। सीइओ की समझाइश पर बुधवार को ग्राम झडिय़ा में सुरेंद्र अहिरवार नामक युवक ने अपनी शादी को स्थगित कर दिया था। इसके बाद सीइओ की समझाइश पर 11 और ग्रामीणों ने अपने बेेटे, बेटियों, भतीजे, भतीजियों, भांजे, भांजियों की शादी को स्थगित कर दिया है।


बहन की शादी को किया स्थगित


जोन्हार पंचायत के अंतर्गत आने वाले ग्राम पिटसूरा के स्वच्छताग्राही कपिल देव ने समाज हित एवं जनहित में की गई अपील को ध्यान में रखते हुए अपनी बहन की शादी को स्थगित कर दिया है। सीइओ ने बताया कि पिटसूरा के कपिल देव के अलावा पिटसूरा के दो, ग्राम बिलौनी के दो, एरई में एक, मुरेरा में चार तथा बरगांय में दो लोगों को मिलाकर अब तक 12 लोग शादी स्थगित करने की सहमति दे चुके हैं।


संक्रमण को रोकने अच्छी पहल


सीइओ द्वारा की गई इस पहल को ग्रामीणों द्वारा समर्थन दिया जाना कोरोना संक्रमण की चेन को तोडऩे की अच्छी पहल है, क्योंकि शादियों में होने वाली भीड़भाड़ से संक्रमण की चेन बढऩा तय रहता है। अगर विवाह समारोह में अंजाने में भी कोई संक्रमित व्यक्ति शामिल होता है तो वहां संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि प्रशासन ने सभी तरह के समारोहों पर आगामी 17 मई तक रोक लगा रखी है इसके बावजूद लोग चोरी छिपे विवाह समारोह आयोजित कर रहे हैं जो कि वर्तमान परिस्थितियों के हिसाब से कतई समाजहित में नहीं है।

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned