scriptuttar pradesh CM yogi adityanath reach datia visited mother pitambara | मध्य प्रदेश पहुंचे यूपी के सीएम योगी अदित्यनाथ, गृह मंत्री के साथ मां पीताम्बरा के किये दर्शन | Patrika News

मध्य प्रदेश पहुंचे यूपी के सीएम योगी अदित्यनाथ, गृह मंत्री के साथ मां पीताम्बरा के किये दर्शन

-एमपी पहुंचे उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ
-हवाई पट्टी पर गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने की आगवानी
-मां पीताम्बरा पीठ में की पूजा अर्चना
-प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद

दतिया

Published: May 08, 2022 11:40:03 am

दतिया. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार की सुबह हेलीकॉप्टर से मध्य प्रदेश के दतिया पहुंचे हैं। यहां दतिया हवाई पट्टी पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री योगी अदित्यनाथ ने उनकी आगवानी की। हवाई पट्टी से सीएम योगी सीधे पीताम्बरा माई के दर्शन करने पीताम्बरा पीठ मंदिर पहुंचे। यहां योगी ने माता के दर्शन और पूजन किया। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने वनखंडेश्वर महादेव का जलाभिषेक भी किया। मौके पर प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।

News
मध्य प्रदेश पहुंचे यूपी के सीएम योगी अदित्यनाथ, गृह मंत्री के साथ मां पीताम्बरा के किये दर्शन

आपको बता दें कि, मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ के दतिया पहुंचने से पहले ही दतिया प्रशासन की ओर से सभी व्यवस्थाएं चाक चौबंध कर ली गई थीं। सीएम योगी के दतिया पहुंचने पर सरकार और संगठन के तमाम लोग मौजूद रहे। योगी आदित्यनाथ के अचानक इस मंदिर में पूजा-अर्चना करने के पीछे चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। मान्यता है कि, मां पीताम्बरा सत्ता बचाती भी है और तमाम हस्तियों को सत्ता तक पहुंचाती भी हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि, सत्ता में दोबारा से वापसी करने के बाद योगी मां का आर्शीवाद लेने यहां पहुंचे हैं।

यह भी पढ़ें- पूजापाठ के बहाने ढोंगी बाबा ने नाबालिग के साथ किया था दुष्कर्म, अब कोर्ट ने दिया महादंड


पिछले वर्ष भी पूजा करने दतिया गए थे सीएम

आपको बता दें कि, ये पहली बार नहीं जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दतिया आए हों, इससे पहले पिछले वर्ष भी वो दतिया स्थित मां पीताम्बरा के दर्शन करने आए थे। उस दौरान सीएम योगी ने पीताम्बरा पीठ में माता बगलामुखी के दर्शन किए थे। मंदिर को लेकर मान्यता है कि, मां के आर्शीवाद से सत्ता का रास्ता आसान हो जाता है। मंदिर में कई राजनेताओं यहां तक ब्यूरोक्रेट्स भी इसी मान्यता के चलते यहां आते रहते हैं।


ये राजनीतिक हस्तियां कर चुकी हैं माता के दर्शन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले व्यक्ति नहीं हैं, जो सत्ता की देवी की आराधना करने आए हैं। यहां मां के दर्शन करने आने का दौरा पं. जवाहरलाल नेहरू के समय से चला आ रहा है। उनके बाद इंदिरा गांधी, अटल बिहारी वाजपेयी, प्रणब मुखर्जी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत कई हस्तियां पूजा-अर्चना करने यहां आती थीं।

यह भी पढ़ें- सिंधिया पैलेस के सामने कांग्रेस ने लगा दिया विवादित पोस्टर, गद्दारी से बताया पुराना नाता


शत्रुओं का सफाया करती है धूमावती

News

दतिया के पीताम्बरा पीठ परिसर में ही धूमावती मंदिर है। मान्यता है कि मां धूमावती की साधना करने वाले को दुश्मन नष्ट हो जाते हैं। लड़ाई-झगड़े, कोर्ट कचहरी में विजय के लिए मां धूमावती की साधना की जाती है। मान्यता है कि, बगलामुखी के साथ ही धूमावती की साधना से शत्रुओं का नाश होता है, इसलिए दतिया के पीताम्बरा पीठ में मां बगलामुखी के साथ ही मां धूमावती की भी स्थापना की गई है, जो दुनिया में अपने आप में अकेला स्थान है।


इस जिले में है बगलामुखी शक्तिपीठ

मध्यप्रदेश के शाजापुर के नलखेड़ा स्थित मां बगलामुखी शक्तिपीठ में भी लोगों की गहरी आस्था है। यहां हर साल नवरात्र में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रहती है। तंत्र साधना करने वाले यहां धुनी जमाए रहते हैं। माना जाता है कि, भगवान श्रीकृष्ण के कहने पर इस मंदिर की स्थापना युधिष्ठिर द्वारा की गई थी। उसके बाद सभी पांडवों ने यहां तंत्र अनुष्ठान किया था। इसके बाद ही उन्हें महाभारत के युद्ध में विजय मिली थी। मां दुर्गा का एक रूप महाकाली भी है, जिसे संहार करने वाली देवी के रूप में माना जाता है। मान्यता है कि, देवी काली को संकटनाश, सुरक्षा, विघ्ननिवारण, शत्रु संहारक के साथ ही सुरक्षा करने वाली देवी भी माना जाता है। महाकाली की आराधना करने वाले साधकों को शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाआतंकी सोच ऐसी कि बाइक का नम्बर भी 2611, मुम्बई हमले की तारीख से जुड़ा है नंबर, इसी बाइक से भागे थे दरिंदेपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोटनूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने पर अमरावती में दुकान मालिक की हुई हत्या!Maharashtra Politics: उद्धव और शिंदे के बीच सुलह कराना चाहते हैं शिवसेना के सांसद, बीजेपी का बड़ा दावा-12 एमपी पाला बदलने के लिए तैयार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.