तौल कांटे में गड़बड़ी होने पर भड़के ग्रामीण

मामला खड़ौआ सोसायटी का, दो घण्टे बंद रहा वितरण का कार्य

इंदरगढ़. ग्राम सेवा सहकारी समिति खड़ौआ में राशन वितरण की दुकान पर तौल कांटे में गड़बड़ी के चलते शनिवार को खाद्यान्न लेने पहुंचे ग्रामीण भड़क गए। इस कारण करीब दो घण्टे से अधिक समय तक राशन वितरण का कार्य बंद रहा। नया तौल कांटा आने के बाद ही राशन वितरण का कार्य शुरू हुआ। हंगामे की सूचना पर तहसीलदार सुनील भदौरिया, नायब तहसीलदार दीपक यादव एवं खाद्य आपूर्ति अधिकारी दीपाली सिंह ने राशन की दुकान पर पहुंचकर मामला शांत कराया।


समीपवर्ती ग्राम खड़ौआ में सेवा सहकारी समिति की राशन वितरण की दुकान पर शनिवार की सुबह खाद्यान्न लेने आए ग्रामीणों ने तौल कांटे में गड़बड़ी की जानकारी मिलते ही हंगामा कर दिया। ग्रामीणों का आरोप था कि उन्हे तौल से कम खाद्यान्न दिया जा रहा है। ग्रामीणों द्वारा हंगामा करने पर राशन वितरण बंद कर दिया गया और दूसरा तौल कांटे के इंतजार में खाद्यान्न लेने आए ग्रामीण दो घण्टे से अधिक समय तक राशन वितरण की दुकान के बाहर धूप में बैठे रहे और नया तौल कांटा आने के बाद खाद्यान्न वितरण शुरू हो सका।


खाद्यान्न वितरण बंद होने पर बैठे रहे ग्रामीण
ग्राम खड़ौआ में राशन वितरण की दुकान पर तौल कांटे में गड़बड़ी के चलते लोगों को कम खाद्यान्न दिया जा रहा था। इसकी जानकारी लगते ही ग्रामीण भड़क गए तो राशन वितरण बंद कर दिया गया और दो घण्टे बाद नया तौल कांटा आने पर राशन वितरण शुरू हुआ।


कम दिया जा रहा था खाद्यान्न

राशन वितरण की दुकान पर तौल कांटे में गड़बड़ी के चलते कम खाद्यान्न दिया जा रहा था। ग्रामीण हाकिम परिहार का कहना है कि उन्हें दो किलो खाद्यान्न कम दिया गया। इसका जब पता चला तब राशन की दुकान से लिया गया राशन प्रायवेट दुकान पर तुलवाया गया। ग्रामीण धर्मेन्द्र नामदेव एवं रामस्वरूप विश्वकर्मा का कहना है कि उन्हें खाद्यान्न नहीं दिया गया और भगा दिया गया।


दो घण्टे बाद पहुंचे अधिकारी

ग्राम खड़ौआ में राशन वितरण की दुकान पर तौल कांटे में गड़बड़ी कर लोगों को कम खाद्यान्न दिया जा रहा था। इसकी जानकारी लगते ही ग्रामीण भड़क गए थे और इसकी शिकायत अधिकारियों से की मगर शिकायत के दो घण्टे बाद तहसीलदार, खाद्य आपूर्ति अधिकारी मौके पर पहुंचे।


कम दिया गया राशन

खड़ौआ राशन की दुकान से मुझे 20 किलो राशन मिला था। कम तौल की शंका होने पर प्रायवेट दुकान पर पहुंचकर राशन तुलवाया गया तो दो किलो कम राशन निकला। मैं दिव्यांग हूं मुझे परेशानी हुई।
हाकिम परिहार, ग्रामीण


अकेली पर्ची थमा दी

मुझे विगत माह भी राशन नहीं दिया गया था। सिर्फ पर्ची थमा दी गई थी और कह दिया गया था कि राशन खत्म हो गया है। आज भी राशन लेने पहुंचे तो घटतौली के चलते हंगामा हो गया।
धर्मेन्द्र नामदेव, ग्रामीण


कांटे में कुछ अंतर था

हमें फोन पर सूचना मिली थी तो मैं मौके पर पहुंचकर जांच की तो पुराना कांटा था। कांटे में कुछ ग्राम की गड़बड़ी थी। उस कांटे को हटवा दिया गया है। नए कांटे से तौल कराई गई।
दीपाली सिंह, खाद्य आपूर्ति अधिकारी

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned