350 डाकघर शाखाएं बंद, ग्रामीण क्षेत्रों में बढी परेशानी

ग्रामीण डाकसेवकों की अनिश्चतकालीन हडताल का दूसरा दिन

By: gaurav khandelwal

Published: 24 May 2018, 04:04 PM IST

दौसा. अखिल भारतीय ग्रामीण डाकसेवक कर्मचारी यूनियन के बैनर तले बुधवार को ग्रामीण डाक सेवकों की अनिश्चतकालीन हडताल बुधवार को दूसरे दिन भी जारी रही। इस दौरान प्रधान डाकघर दौसा में कार्मिकों ने जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इससे 350 डाकघर शाखाएं बंद रहने से ग्रामीण क्षेत्रों में विद्यार्थियों के कॉल लेटर एवं पोस्टल आर्डर वितरण कार्य प्रभावित हुआ।

 

ऐसे में प्रधान डाकघरों में स्पीडपोस्ट, पार्सल, साधारण डाक, रजिस्ट्री सहित अन्य डाक की संख्या बढती जा रही है। जयपुर देहात मण्डल सचिव गिर्राजप्रसाद शर्मा ने बताया कि जीडीएस कमेटी की सिफारिश नवम्बर 2016 में डाक विभाग को सौंपने के बाद भी गत एक माह से फाईल केबिनेट के समक्ष लम्बित है। ऐसे में सातवां वेतन आयोग लागू नहीं होने तक हडताल जारी रहेगी।

 

इस मौके पर लल्लूराम शर्मा, मरेह तिवाडी, महेश शर्मा, विनोद गौतम, प्रकशचन्द, विनोद गुप्ता, दीपचन्द महावर, छगनलाल, राजकुमार महावर, सईद खान, सत्यनारायण शर्मा, रामप्रसाद मीना, मोहन पापडदा, हरपालसिंह, धारासिंह, रामदयाल गुर्जर, सुवालाल एवं सुरेश सैनी आदि ने विरोध जताया।

 

आश्वासन के बाद अनशन समाप्त


गुढ़ाकटला. भंावता भांवती के आईटी केन्द्र पर भांवती,बगडेडा बेडाली ढाणी एवं जोगियों की ढाणी तक आम रास्तों से अतिक्रमण हटवाने की मांग लेकर पूर्व सरंपच कन्हैयलाल गुर्जर के नेतृत्व में शुरू हुआ अनशन बुधवार दोपहर उपखण्ड अधिकारी चिम्मनलाल मीना की समझाइश से समाप्त हुआ। तहसीलदार पिंकी गुर्जर के साथ अनशन स्थल पर पहुचें उपखण्ड अधिकारी चिमनलाल मीना ने सात दिन में अतिक्रमण हटवाने एवं दोषियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया। राधाकिशन मीना ने बताया कि अनशन के दौरान उपखण्ड अधिकारी ने तहसीलदार एवं पुलिस प्रशासन को अतिक्रमण को चिन्हित कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके बाद ज्यूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया। पूर्व सरपंच कन्हैयालाल गुर्जर, एडवोकेट राधाकिशन मीना, जगदीश गुर्जर, रणजीता पटेल, बुद्धानाथ, लोहड़ीराम मीना, पंचायत समिति के पूर्व सदस्य रामादेवी मीना, कालूराम मीना, छोटी देवी सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।

 


शौचालय निर्माण भुगतान कार्य प्रभावित


दौसा. स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण कर्मचारी सेवा परिषद कर्मचारी संघ की ओर से विभिन्न मांगों को लेकर संविदा कार्मिक बुधवार को दूसरे दिन भी सामूहिक अवकाश पर रहे। इससे शौचालय निर्माण के भुगतान के लिए फोटो अपलोडिंग सहित अन्य कार्य प्रभावित हुए। जिलाध्यक्ष बनवारीलाल शर्मा ने बताया कि मांगों के लिए सीएम को ज्ञापन भेजकर अवतग करा दिया था। लेकिन उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। सामूहिक अवकाश शुक्रवार तक जारी रहेगा। इसके बाद भी कोई सकारात्मक रुख नहीं अपनाया गया तो आगे की रणनीति तैयार की जाएगी। गौरतलब है कि जिले में काफी संख्या में शौचालय निर्माण के बाद भुगतान नहीं हो सका है।

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned