पिता - पुत्र को कोरोना संदिग्ध बताने वाला गिरफ्तार

- आरोपी ने सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज कराई झूठी शिकायत, झूठी खबर से क्षेत्र में मचा हडक़ंप

मण्डावर. थाना इलाके के कोट गांव में एक जने ने बुधवार को दो लोगों (पिता- पुत्र ) के कोरोना संक्रमण से संदिग्ध होने की झूठी शिकायत सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज कराने से चिकित्सा विभाग, पुलिस व जिला प्रशासन में हडक़ंप मच गया। मामले की गम्भीरता के चलते गुरुवार को मण्डावर थाना पुलिस ने झूठी शिकायत करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
थाना प्रभारी लालसिंह ने बताया कि बुधवार को कोट निवासी मनोज जांगिड़ पुत्र गोपाल जांगिड़ ने सम्पर्क पोर्टल 18 1 पर शिकायत दर्ज करवाई कि हरी पुत्र छज्जू व संजय पुत्र हरि कोरोना वायरस से सन्दिग्ध है। सूचना मिलते ही चिकित्सा विभाग व प्रशासन में हडक़ंप मच गया। सूचना पर तुरंत प्रभाव से कार्रवाई करते हुए चिकित्सा विभाग ने दोनों संदिग्ध मरीजों की जांच की। जिस पर दोनों के लक्षण कोरोनावायरस संदिग्ध नहीं पाए गए।
राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य प्रभारी डॉ. अमित कुमार सैनी ने बताया कि दोनों लोगों ने बताया कि उन्हे बीमारी के बारे में नहीं पता है और ना ही उन्होंने इसे लेकर कहीं शिकायत की है। इस पर चिकित्सक ने गुरुवार को उच्चाधिकारियों के मार्गदर्शन में आरोपी मनोज जांगिड़ जांगिड़ के खिलाफ कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को लेकर पुलिस थाने में गुरुवार को मामला दर्ज करवाया है। इस पर थाना प्रभारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को तुरंत गिरफ्तार कर लिया है । थाना ने बताया कि व्हाट्सएप, फेसबुक व सोशल मीडिया पर झूठी खबरें वायरल करने वालों व झंूठी शिकायत करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर कानूनी कार्रवाई की जावेगी।

अफवाहों का बाजार गर्म
क्षेत्र में दो कोरोना संक्रमित संदिग्ध लोगों की अफवाहों का दौर बुधवार से जोरों से चल पड़ा। इससे कोट गांव व आसपास के क्षेत्र में लोग घरों में ही दुबके रहे। जिसे लेकर क्षेत्र में लोग डरे सहमे है। बाद में मामले में आरोपी के गिरफ्तार होने पर लोगों ने झूंठा मामला होने पर राहत की सांस ली है।

Corona virus
Rajendra Jain Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned