दौसा में चार वर्षीय बालक के अपहरण का प्रयास, जाग होने पर बालक को छोड़ भागा आरोपी

दौसा में चार वर्षीय बालक के अपहरण का प्रयास, जाग होने पर बालक को छोड़ भागा आरोपी

Mahesh Jain | Updated: 08 Aug 2019, 07:33:17 PM (IST) Dausa, Dausa, Rajasthan, India

अपहरण की वारदातों से दहशत: चोरी की बाइक से आया था अपहरणकर्ता, समीप के मकान में भी चोरी की हुई वारदात

दौसा. Attempted kidnapping of four-year-old boy in Dausa, accused fled after शहर की जनता कॉलोनी में गुरुवार तड़के साढ़े तीन बजे चार वर्षीय बालक कार्तिक के अपहरण का प्रयास किया और समीप ही एक मकान में चोरी की वारदात भी हुई। बालक के परिजन एवं कॉलोनीवासियों ने बालक के अपहरण करने वाले आरोपी को दबोचने का प्रयास किया, तो आरोपी बाइक छोड़ कर अंधेरे का फायदा उठा कर भाग छूटा। सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घटना का जायजा लिया और बाइक को बरामद किया। खास बात तो यह हैकि बाइक भी चोरी की थी।


कोतवाली पुलिस थाने में गुरुवार को चार वर्षीय बालक के पिता जनता कॉलोनी निवासी गिर्राज प्रसाद मीना ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि गुरुवार सुबह करीब साढ़े तीन बजे वे मकान का दरवाजा खुला छोड़ कर कमरे में सो रहे थे। एक जना उसके चार वर्षीय पुत्र कार्तिक को उठा कर कंधे पर रख कर अपहरण kidnapping कर ले जा रहा था। अपहरणकर्ता जब वह कमरे से बाहर निकल रहा था तो उसका लोहे के बक्से से धक्का लग गया।


आवाज होने पर उनकी नींद खुल गई। इस दौरान आरोपी से बच्चा तो छुड़ा लिया, लेकिन वह अधेंरे का फायदा उठा कर भागने में कामयाब हो गया। लेकिन वह जिस बाइक पर आया था वह बाइक एवं एक बैग छोड़ भागा। बैग में कई लोगों की आईडी थी। बाइक चोरी की बताई जा रही है। कॉलोनी के लोगों ने भी कोतवाली थाने पहुंच कर आरोपी की तलाश कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

घासीलाल के मकान में चोरी की हुई वारदात
जिस मकान से बालक का अपहरण Attempted kidnapping of four-year-old boy in Dausaकरने का प्रयास किया गया उसी मकान के दो सौ मीटर के दायरे में गोलच्छा फैक्ट्री के पीछे गूणीवाली ढाणी स्थित घासीलाल मीना के मकान में गुरुवार रात को ही चोरी की वारदात भी हुई। कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि घासीलाल पुत्र रेवणमल मीना उसके मकान से एक मोबाइल, चांदी की पायजेब व 300 रुपए नकद चोरी हो गए।

बालकों के परिजनों में भय
बालकों के अपहरण kidnapping की वारदातों से आमजन अपने बालकों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं, लेकिन पुलिस मौन है। पूर्वी राजस्थान के भरतपुर, करौली, महुवा में कुछ वारदातें होने के बाद दौसा में भी लोग आशंकित है। इस सम्बन्ध में दौसा के पुलिस उच्चाधिकारियों ने थाना प्रभारियों को अभी कोई निर्देश नहीं दिए हैं। जबकि पुलिस को संदिग्धों पर नजर रखनी चाहिए।


उल्लेखनीय हैकि राजस्थान पत्रिका के 8 अगस्त के अंक में 'बच्चों के अपहरण kidnapping की वारदातों से शिक्षा विभाग चिंतित' शीर्षक से खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है। फिर भी पुलिस मामले को नजर अंदाज कर रही है।

 

छारेड़ा से छह संदिग्धों को ग्रामीणों ने पुलिस को किया सुपुर्द
नांगलराजावतान थाने के छारेड़ा कस्बे में गुरुवार सुबह घूम रहे छह जनों को संदिग्ध मान कर ग्रामीणों ने पुलिस को बुला कर सुपुर्द कर दिए। हालांकि पुलिस जांच में पता चला कि वे लोग गांवों में घूम कर सत्संग करने वाले थे। बाद पुलिस ने जांच कर उनको छोड़ दिया।

दौसा में चार वर्षीय बालक के अपहरण का प्रयास, जाग होने पर बालक को छोड़ भागा आरोपी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned