script 25 साल के बेरोजगार प्रेमी के लिए 28 साल की प्रेमिका ने पति को मार दिया, 12 साल पहले हुई थी शादी, दो बेटे अनाथ | Before Valentine's Day, 28 year old girlfriend killed her husband for her 25 year old unemployed lover, married 12 years ago, two sons orphaned | Patrika News

25 साल के बेरोजगार प्रेमी के लिए 28 साल की प्रेमिका ने पति को मार दिया, 12 साल पहले हुई थी शादी, दो बेटे अनाथ

locationदौसाPublished: Feb 10, 2024 08:42:16 am

Submitted by:

JAYANT SHARMA

Murder in Rajasthan: दौसा जिले के बालाहेड़ी थाना पुलिस की टीम ने ब्लाइंड मर्डर का मात्र 6 घंटे में खुलासा कर दिया।

murder_news_photo_2024-02-10_08-37-29.jpg

Murder in Rajasthan: दौसा जिले के बालाहेड़ी थाना पुलिस की टीम ने ब्लाइंड मर्डर का मात्र 6 घंटे में खुलासा कर दिया। प्रेम प्रसंग में अड़चन बन रहे पति की पत्नी ने प्रेमी और उसके दोस्तों के साथ मिलकर रस्सी से गला घोट कर हत्या की और लाश नेशनल हाइवे के पास एक खेत में फेंक पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। पुलिस ने मामले में मृतक की पत्नी - प्रेमी समेत 5 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया।


एसपी वन्दिता राणा ने बताया कि गुरुवार को सायपुर निवासी आशा देवी ने थाना बालाहेड़ी पर अपने पति रामदयाल मीणा उर्फ रामू की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। इस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शंकर लाल व सीओ प्रेम बहादुर के सुपरविजन एवं एसएचओ महवा जितेंद्र सिंह सोलंकी व एसएचओ बालाहेडी जनमेजाराम के नेतृत्व में अलग - अलग टीमें गठित की गई। गठित पुलिस टीम द्वारा सायपुर गांव में पूछताछ की तो जानकारी में आया कि संतोष उर्फ संजय मीणा निवासी रसीदपुर का आशा देवी के साथ करीब 2 साल से अफेयर चल रहा है। जिसका उनके घर भी आना - जाना था। सन्दिग्ध संतोष मीणा के घर पर पुलिस ने दबिश दी तो वह फरार मिला।

मोबाइल पर संपर्क किया तो पहले तो कॉल काटने लगा, बाद में स्विच ऑफ कर दिया। शक गहरा जाने पर पुलिस ने तकनीकी मदद से संतोष उर्फ संजय मीणा व उसके साथी उमाशंकर तिवारी को डिटेन कर गहनता से पूछताछ की तो सामने आया कि प्रेम में अड़चन बन रहे रामु उर्फ रामदयाल की हत्या की साजिश उसने आशा देवी के साथ मिलकर रची। पैसे देने के बहाने बालाहेडी मोड बुलाकर वह रामदयाल को अपनी बाइक पर बैठा कर थाना टोडाभीम के मान्नौज गांव में अपने रिश्तेदार भानु व दयाराम मीणा के पास ले गया और यहां वहाँ घुमाते हुए शराब पिलाते रहे।


शराब का अत्यधिक नशा हो जाने पर उन्होंने रस्सी से गला घोट कर हत्या की और नेशनल हाईवे पर समलेटी गांव के पास एक खेत में उन्होंने रामदयाल उर्फ रामू मीणा का शव फेंक दिया। संतोष की निशानदेही पर पुलिस ने मृतक रामदयाल का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया।


मामले में आरोपी प्रेमी संतोष उर्फ संजय पुत्र प्रभु दयाल मीणा 25 साल, निवासी रसीदपुर थाना मंडावर, प्रेमिका आशा देवी पत्नी रामदयाल 28 साल, निवासी सायपुर थाना बालाहेड़ी, साथी उमाशंकर तिवारी पुत्र गोपाल 25 साल निवासी पीली कोठी थाना महवा जिला दौसा और रिश्तेदार भानु उर्फ रोबिन मीणा एवं दयाराम मीणा को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि आशा और रामु के दो बच्चे भी हैं। दोनो की शादी करीब बारह साल पहले हुई थी। रामु खेती बाड़ी का काम करता था और संतोष बेरोजगार है और पढ़ाई कर रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो