काली पट्टी बांधकर किया प्रदर्शन

गादरवाड़ा ब्राह्मणान को गुढ़लिया में जोडऩे की मांग

गुढ़लिया-अरनिया. गादरवाड़ा ब्राह्मणान गांव को गुढ़लिया पंचायत में यथावत रखने की मांग को लेकर पांचवें दिन रविवार को भी धरना जारी रहा। ग्रामीणों ने काली पट्टी बांधकर प्रशासन के खिलाफ विरोध जताते हुए शीघ्र मांग पूरी नहीं करने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है।
ग्रामीणों ने बताया कि गादरवाड़ा ब्राह्मणान गांव को पंचायत परिसीमन में गुढ़लिया पंचायत से हटाकर कोलवा पंचायत में जोड़ दिया गया। जबकि गुढ़लिया ग्राम पंचायत मुख्यालय गादरवाड़ा ब्राह्मणान की सीमा से सटा हुआ है। गुढ़लिया की गादरवाड़ा ब्राह्मणान से दूरी भी महज 2 किलोमीटर है। जबकि कोलवा की दूरी 7 किलोमीटर है।
उन्होंने बताया कि जिला कलक्टर के समक्ष आपत्ति दर्ज कराने पर भी मांगों पर कार्रवाई नहीं की गई। इसको लेकर ग्रामीण पांच दिन से आन्दोलनरत हैं, लेकिन प्रशासन के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है। पंचायतीराज चुनाव को देखते हुए रविवार को आयोजित हुए नाम जोडऩे व हटाने के विशेष शिविर के दिन भीर विद्यालय नहीं खुलने से बीएलओं को भी खुले में बैठकर ही शिविर का संचालन करना पड़ा। ग्रामीणों ने शीघ्र समस्या का समाधान नहीं होने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है। इस मौके पर विनोदकुमार सैनी, कुबेर बोहरा, हरिमोहन शर्मा, बालकिशोर शर्मा, अशोक शर्मा, चंदो, बच्छीदेवी, संती, शिमला शर्मा, गुलाब शर्मा, मंजू, गुडडी, , छोटी एवं कलावती ने भी विरोध जताया।

तीसरे दिन भी जारी रहा धरना
दौसा . बीघावास गांव को हिंगोटिया से हटाकर नवीन ग्राम पंचायत ठीकरिया में जोडऩे के विरोध में ग्रामीणों ने तीसरे दिन रविवार को भी धरना जारी रखा। इस दौरान गुर्जर महासभा के जिलाध्यक्ष गिर्राज घुरैया ने कहा कि ग्रामीणों की इच्छा के विपरीत राजनीतिक दबाव में इस गलत निर्णय से लोगों में आक्रोश है। उन्होंने पंचायतराज मंत्री से पूर्व की स्थिति बहाल करने की मांग की। शीघ्र ही ग्रामीणों का प्रतिनिधिमंडल मंत्री से मिलेगा। कन्हैयालाल गुर्जर व गिर्राजप्रसाद गुर्जर ने कहा कि सरकार ने निर्णय वापस नहीं लिया तो नेताओं को गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा। इस दौरान सरपंच माया बैरवा, रमेश बैरवा, चिरंजीलाल शर्मा, हरिसिंह गुर्जर, रामभजन, रामसिंह, धारासिंह आदि थे।

सरपंच के नेतृत्व में धरना जारी
खेड़ला . क्षेत्र की ग्राम पंचायत गगवाना को महुवा पंचायत समिति से हटा कर बैजूपाड़ा में जोडऩे के विरोध में गगवाना के ग्रामीणों का रविवार को आठवें दिन भी अनिश्चितकालीन धरना जारी रहा। ग्रामीणों की मांग है कि गगवाना पंचायत को वापस महुवा पंचायत समिति में ही जोड़ा जाए। इसको लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश है। यदि सरकार ने मांग पूरी नहीं की गई तो जल्दी ही आंदोलन को उग्र किया जाएगा। धरना स्थल पर गगवाना सरपंच अशोक मीणा ने कहा कि गगवाना से महुवा की दूरी आठ किलोमीटर है जबकी बैजूपाड़ा यहां से 30 किलोमीटर दूर है। सरपंच ने मुख्यमंत्री को पत्र को भेज कर गगवाना को महुवा पंचायत समिति में ही रखने की मांग की है। धरना स्थल पर रामभरोसी मीणा, स्माइल ग्रुप अध्यक्ष राधेश्याम पटवारी, बद्री प्रसाद, देवी सहाय, रामरूप, रामराज, श्रीराम, मुंशीराम, संतोषी लाल व निरंजन सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned