शोर-शराबे के बीच 141.12 करोड़ का बजट पारित

नगर परिषद की साधारण सभा

दौसा. दौसा नगर परिषद की बैठक शुक्रवार को उपसभापति की मौजूदगी में हुई। इसमें शोर शराबे के बीच 141.12 करोड़ का बजट सर्वसम्मति से पारित किया गया। सभापति राजकुमार जायसवाल की अनुपस्थिति में उपसभापति वीरेन्द्रशर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में सफाई, रोडलाइट, अतिक्रमण सहित अन्य मुद्दे छाए रहे।

सभापति के अनुपस्थित होने पर पार्षदों ने हंगामा कर विरोध भी जताया। इसके अलावा पार्षदों ने बजट की कॉपी पन्द्रह दिन पूर्व उपलब्ध नहीं कराकर बैठक में देने पर शोर शराबा भी किया और इसे परिषद की मनमानी करार दिया। सर्वप्रथम पार्षद इन्द्र मीना ने कहा कि सडक़ मरम्मत के नाम पर लीपापोती की है। सडक़ पर सडक़ बनाकर लोगों की खून-पसीने से कमाई को खराब किया है। उन्होंने नगर परषिद सभापति की अनुपस्थिति व उनकी जाति मीना से बदलकर शर्मा करने पर संदेह हैं। गत वर्ष फरवरी 2019 से वर्ष2020 फरवरी तक के निर्माण कार्यों पर किए गए खर्च की जानकारी उपलब्ध नहीं कराने पर आक्रोश जताया। उन्होंने इस दौरान कराए गए निर्माण कार्यों की जांच कराने का मुद्दा भी उठाया।

पार्षद रानू खान ने वार्ड दस में स्थित कब्रिस्तान के चारदीवारी कराने की मांग की तो आयुक् त सुरेन्द्र मीना ने यह जमीन वक्फ बोर्ड की होने का हवाला दिया। इस पर दोनों में काफी देर तक कहासुनी भी हुई। बाबूलाल जैमन ने कहा कि वित्तीय अधिकार सभापति को ही होने के कारण बैठक बुलाने का कोई औचित्य ही नहीं रहा। ऐसे में आगामी दिनों में चेयरमैन की उपस्थिति में बैठक बुलाईजाए। मोहसिन खान ने साम्प्रदायिक सद्भाव बढ़ाने के लिए होली पर क्रिकेट प्रतियोगिता कराए जाने की मांग की। विनोद बैन्दाड़ा ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत डोर टू डोर कचरा वाहन नहीं आने व नियमित सफाईनहीं होने पर आक्रोश जताया। महबूब अली ने कहा कि उनकी राय से पांच साल में भी एक भी कार्य नहीं हुआ। प्रहलाद शर्मा ने सफाईव्यवस्था को दुरुस्त करने, कचरा पात्र उपलब्ध कराने की मांग की। रानू खान ने कहा कि परिषद की निर्माण शाखा में अग्रिशमन कर्मचारियों को हटाकर अनुभवी कर्मचारियों को लगाया जाए।

इन्द्र मीन ने प्रत्येक वार्ड में 25-25 लाख रुपए के विकास कार्य कराने का प्रस्ताव रखा। जिस पर सभी पार्षदों ने सहमति जताई। विनोद बैन्दाड़ा ने यातायात व्यवस्था सुचारू करने तथा सडक़ दुर्घटनाएं रोकने के लिए लालसोट रोड व आगरा रोड बायपास पर फुट ओवरिब्रज निर्माण की मांग की। कैदार चांदराना ने अरावली विहार कॉलोनी से श्याम मंदिर तक पक् का नाला निर्माण कराने की मांग की। पार्षद अरविन्द गुर्जर ने मण्डी रोड सीसीटीवी कैमरे लगाने, पार्षद बाबूलाल जैमन ने नियमित सफाई व खराब पड़ी रोडलाइट को दुरुस्त कराने की मांग की। पार्षद हंसराज गुर्जर ने कॉलोनी में बने मकानों व भूखण्डों के पट्टे जारी करने की मांग की। धर्मराज मीना ने नन्दी गोशाला का निर्माण कराने की मांग की। पार्षद अजय शर्मा, आचार्य आशीष शर्मा, कैलाश नाटाणी, जसवंत बेनीवाल ने भी वार्डों में विकास कार्य कराए जाने की मांग की। इसके अलावा में परिषद में 30 साल से कार्यरत हरिनारायण गुर्जर को पदोन् नति देकर लिपिक बनाने की मांग भी गई।
सडक़ों के लिए 12 करोड़
बैठक में सर्वसम्मति से सडक़ों के लिए 12 करेाड़, नाली-नाला निर्माण के लिए छह करोड़ तथा टूट-फूट को दुरुस्त करने के लिए एक करोड़ रुपए का बजट सर्वसम्मति से पारित किया गया। इसके लिए
ये भी मौजूद
बैठक में आयुक् त सुरेन्द्र मीना, राजस्व निरीक्षक समयसिंह मीना, कनिष्ठ लिपिक अनिल जैन, लेखाकार जगमोहन मीना आदि मौजूद थे।
कक्ष से बाहर निकाला
बैठक में महिला पार्षदों के साथ आए पति व उनके परिजनों को बैठक शुरू होते ही सभागार कक्ष से बाहर निकाल दिया। ऐसे मेें उन्हें खिड़कियों के समीप बैठक की चर्चा सुननी पड़ी।
सभापति का नहीं आना बना चर्चा का विषय
बैठक में सभापति राजकुमार जायसवाल का नहीं आना भी पार्षदों के लिए चर्चा का विषय बना रहा। हालांकि इसके लिए जरूरी कार्य होने का पत्र जारी कर उपसभापति की मौजूदगी में बैठक करने को कहा था।

Rajendra Jain Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned