बेटों की मौत पर माता- पिता के खिलाफ मामला दर्ज

बेटों की मौत पर माता- पिता के खिलाफ मामला दर्ज

Gaurav Kumar Khandelwal | Publish: Jun, 16 2019 08:32:24 AM (IST) Dausa, Dausa, Rajasthan, India

दो बेटे व एक बेटी के साथ महिला के कुएं में कूदने का मामला

दौसा / नांगलराजावतान. थाना इलाके के बागपुरा गांव में शुक्रवार रात दो बेटे व एक बेटी को साथ लेकर कुएं में कूदी महिला के दोनों बेटों का शनिवार दोपहर पुलिस ने जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम करा कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिए। थानाधिकारी हुकमसिंह ने बताया कि महिला के पीहर पक्ष से जगदीश मीना निवासी ठिकरया ने मामला दर्ज कराया कि जेठ रामखिलाड़ी मीना, पति रमेश, जेठानी छोटी देवी सहित सास के खिलाफ मामला दर्ज कराया कि गुड्डी को परेशान कर उसे कुएं में पटक कर हत्या ब'चों की हत्या कर दी।

 

 

वहीं जयपुर अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पुलिस महिला गुड्डी को कोतवाली पुलिस थाने ले आई। जहां पर उससे व जेठानी आदि से घटना की जानकारी ली जा रही है। इधर महिला के जेठ रामखिलाड़ी मीना निवासी बागपुरा ने गुड्डी देवी के खिलाफ ब"ाों को कुएं में पटक कर हत्या कर करने का मामला दर्ज कराया गया। जांच लालसोट थाना प्रभारी करण सिंह को सौंपी है।

 

 


उल्लेखनीय है कि नांगलराजावतान थाना इलाके के बागपुरा में 14 जून रात करीब 8 बजे रमेश मीना की पत्नी गुड्डी अपने दो बेटे रोहित (5) व मोहित (3) एवं बेटी शकीना (6) को साथ लेकर कुएं में कूद गई थी। इसमें एक पुत्र की मौत तो कुएं में ही हो गई थी। दूसरे बेटे की मौत जिला अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई थी। गुड्डी व उसकी बेटी शकीना को जयपुर रैफर कर दिया था। शनिवार सुबह गुड्डी को जयपुर से छुट्टी दे दी।

 

 

पीहर पक्ष ने लगाया आरोप


जिला अस्पताल में शनिवार सुबह महिला के पीहर व ससुराल पक्ष के लोग पहुंच गए। इधर महिला के पीहर पक्ष ने पुलिस से जब पूछा की उनकी बेटी कहां है तो पुलिस ने बताया कि रात को गुड्डी व उसकी बेटी शकीना को जयपुर रैफर कर दिया था। सुबह किसी ने बता दिया कि गुड्डी की अस्पताल से छुट्टी हो गई। इस पर परिजनों ने आरोप लगाया कि गुड्डी को ससुराल पक्ष के लोगों ने गायब कर दिया। लोगों ने पुलिस पर भी पक्षपात का आरोप लगाया।

 

 

पीहर पक्ष ने पुलिस से मांग की कि पहले वे गुड्डी को यहां अस्पताल में देखना चाहते हैं, उसके बाद ही पोस्टमार्टम होने देंगे। इस बीच पुलिस व ग्रामीणों के बीच कई बार बहस हुई। परिजनों ने धमकी दी कि यदि पुलिस महिला को यहां नहीं लाएगी तो वे रोड जाम करेंगे। कोतवाली थाना प्रभारी गणपतराम चौधरी व नांगलराजावतान थाना प्रभारी हुकुम सिंह ने लोगों को समझाया। इस बीच पुलिस महिला को सुबह करीब 11 बजे कोतवालीपुलिस थाने ले आई। पुलिस ने इसकी जानकारी पीहर पक्ष को भी दे दी। गुड्डी देवी के भाई को कोतवाली थाने मे मिलवा दिया। इसके बाद मामला शांत हुआ।

 

 

शादी के बाद से ही विवाद


पीहर पक्ष ने आरोप लगाया कि जब से गुड्डी की शादी बागपुरा में रमेश मीना के साथ हुई थी, तभी से दोनों के बीच अनबन रहती थी। पति पर कईतरह के आरोप लगाए। दोनों का विवाद पहले भी कई बार नांगलराजावतान पुलिसथाने पहुंच चुका है। पति पहले भी शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार हो चुका है। गांव-समाज के लोगों ने भी कईबार समझाइश की थी।

 

 

तीन वर्ष पहले भी कुएं में कूद गई थी


लोगों ने बताया कि महिला जिस कुएं में 14 जून को अपने तीन ब'चों को साथ लेकर कूदी थी, उसी कुएं में तीन-चार वर्ष पहले भी कूद गई थी। तब भी वह बाल-बाल बच गई थी।

 

 

नहीं आया पिता


जिला अस्पताल में महिला के पीहर पक्ष के लोगों ने आरोप लगाया कि ब"ाों की मौत के बाद शव देखने भी पिता अस्पताल नहीं आया। इधर पुलिस ने बताया कि रमेश रात से ही गायब हो गया।

 



कोतवाली थाने से बुलाना पड़ा जाप्ता


जिला अस्पताल में तनाव की स्थिति को देखते हुए नांगलराजावतान थाना प्रभारी हुकुम सिंह ने कोतवाली पुलिस थाने से जाप्ता बुला लिया। इस पर कोतवाली थाना प्रभारी गणपतराम चौधरी मय जाप्ते जिला अस्पताल पहुंच गए। इससे पहले कुछ युवकों ने नांगलराजावतान थाना प्रभारी से उलझने का प्रयास किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned