पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों के विरोध में उतरी कांग्रेस

Congress came out against the increase in petrol and diesel prices- प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

By: gaurav khandelwal

Published: 29 Jun 2020, 08:15 PM IST

दौसा. पेट्रोल-डीजल के मूल्यों में बढ़ोतरी के विरोध में सोमवार को जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में विरोध-प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन देकर जनता को राहत दिलाने की मांग की गई। इस मौके पर दौसा विधायक मुरारीलाल मीना ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल पर उत्पादन शुल्क 23.78 रुपए प्रति लीटर व डीजल पर 28.37 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी करने से देश में महंगाई चरम सीमा पर पहुंच गई है। इससे आमजनता का जीना मुश्किल हो गया है।

Congress came out against the increase in petrol and diesel prices


बांदीकुई विधायक जीआर खटाणा ने कहा कि झूठे वादे कर सत्ता में आई मोदी सरकार के कार्यकाल में महंगाई चरम सीमा पर है। पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि से किसानों के साथ हर वर्ग के आदमी को झटका लगा है।


जिलाध्यक्ष रामजीलाल ओढ़ ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले छह साल में औसत डीजल के उत्पाद शुल्क में 820 प्रतिशत व पेट्रोल में 258 प्रतिशत की वृद्धि की है। ऐसा कर करीब 18 लाख करोड़ रुपए कमा लिए हैं। इस दौरान जिला प्रवक्ता घनश्याम शर्मा, प्रधान दीनदयाल बैरवा, रामनाथ राजोरिया, मनोहरलाल गुप्ता, अब्दुल मन्नान, रामनिवास गांगडिया, महेन्द्र आनंद, चंचल कसाना, हंसराज गुर्जर, मोहम्मद रहीस, साहिल खान, सियाराम गुर्जर, आसिफ सहित कई कार्यकर्ता थे।

बांदीकुई. भारतीय कांग्रेस आर्मी प्रदेशाध्यक्ष सोहनलाल मीणा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सोमवार को राष्ट्रपति के नाम बसवा तहसीलदार ओमप्रकाश गुर्जर को ज्ञापन सौंप पैट्रोल-डीजल के बढ़ाई गई दर वापस कम किए जाने की मांग की। इस दौरान तहसील अध्यक्ष अनुराधा शर्मा, जिला संगठन मंत्री रामावतार मीणा, वीरेन्द्र कुमार शामिल थे। (प.सं.)

Congress came out against the increase in petrol and diesel prices

विशेष जागरुकता अभियान अब 7 तक


दौसा. जिले में कोविड नियंत्रण के लिए संचालित विशेष जागरुकता अभियान अब 7 जुलाई तक संचालित किया जाएगा। जिला कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते रखते हुए 21 से &0 जून तक 10 दिवसीय जागरूकता अभियान चलाया गया था। अभियान की सफलता को देखते हुए अब रा’य सरकार ने आगामी 7 जुलाई तक इसे बढ़ाया है। सभी जिला एवं उपखण्ड स्तरीय अधिकारी 7 जुलाई तक जागरुकता कार्यक्रम आयोजित कराना सुनिश्चित करेंगे।

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned