कांग्रेस को दौसा शहर में मिली हार

सैंथल व पचवारा में कांग्रेस को मिली सफलता

दौसा. लोकसभा चुनाव में भले ही कांग्रेस पार्टी की सविता मीना ने 1891 वोटों से जीत दर्ज कराई है, लेकिन उनको दौसा शहर में 4 हजार 128 वोटों से हार झेलनी पड़ी है, जबकि विधानसभा चुनाव में उनके ही पति मुरारीलाल मीना को दौसा शहर ने जिताया था। इसी प्रकार यदि सैंथल, कुण्डल व जीरोता भण्डाना इलाके से दोनों ही पार्टियों में जीत का अंतर खास नहीं रहा। इस इलाके में कांग्रेस को 27 हजार 18 वोट मिले तो भाजपा ीाी 25 हजार388 वोट लेकर मात्र 1630 वोटों से ही हारी।

 

 

इसी प्रकार मलराना से लवाण, लवाण से नांगलराजावतान व नांगलराजावतान से छारेड़ा तक के पचवारा इलाका जहां पर कांग्रेस प्रत्याशी के पति मुरारीलाल मीना का गढ़ माना जाता है यहां भी कांग्रेस को 26 हजार 250 वोट मिले तो भाजपा की जसकौर मीना भी 21 हजार 844 वोट ले गई। यहां पर कांग्रेस को मात्र 4406 वोटों की बढ़त मिली।

 


जबकि विधानसभा चुनावों में कांग्रेस प्रत्याशी के पति मुरारीलाल मीना को विधानसभा चुनाव में करीब 99 हजार वोट मिले थे तो भाजपा करीब 48 हजार वोटों पर ही सिमट गई थी। जबकि अब लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को पूरे विधानसभा क्षेत्र में 70 हजार 913 वोट मिले हैं तो भाजपा को 69 हजार 22 वोट मिले हैं।

 


यह है सैंथल इलाके की गणित


विधानसभा इलाके में सैंथल कस्बे में भाजपा को 1801 वोट मिले हैं तो कांग्रेस को 1103 वोट मिले हैं। यहां पर कांग्रेस को 698 वोटों से हार झेलनी पड़ी है। इसी प्रकार काबलेश्वर में भजपा को 413 वोट मिले हैं तो कांग्रेस को 496 वोट मिले यहां कांग्रेस 83 वोटों से जीती। इसी प्रकार पीलवा में भाजपा को 60 वोटों की जीत मिली। तीतरवाड़ा में भाजपा को 697 वोट मिले तो कांगे्रस को 1744 वोट मिले।यहां कांग्रेस को 1047 वोटों की बड़ी जीत मिली। इसी प्रकार बिशनपुरा में कांग्रेस मात्र 8 वोटों से जीती है। होदायली में भाजपा को 216 तो कांग्रेस को 94 वोट मिले। दादनका में भाजपा को 350 तो कांग्रेस को 80 ही वोट मिले।

 

चोरडी में भाजपा को 141 तो कांग्रेस को 612 वोट मिले। उदाला में भाजप को 454 तो कांग्रेस को 228 वोट मिले। इसी प्रकार बोरोदा में भाजपा को 333 तो कांग्रेस को यहां 581 वोट मिले। महाराजपुरा में भाजपा को 461 तो कांग्रेस को मात्र 96 वोट ही मिले। इसी प्रकार बापी में भाजपा को 1381 तो कांग्रेस को 257 वोट ही मिले। चैनपुरा में भाजपा को 201 तो कांग्रेस को 152, सींगपुरा में भाजपा को 118 तो कांगेस को याहं 315 वोट मिले। इसी प्रकार धर्मपुरा में भाजपा को 572 तो कांगे्रस को 199 वोट मिले। बड़ौली में भाजपा को 443 तो कांग्रेस को 821 वोट मिले यहां कांग्रेस को 378 वोटों की बढ़त मिली। खोर्रा में भाजपा को 122 तो कांगे्रस को 205 वोट मिले। ुकुण्डल कस्बे में भाजपा को 1518 वोट मिले तो कांग्रेस को मात्र 572 वोट मिले।

 

 

कुण्डल में भाजपा को 946 वोटों की जीत मिली। सिकण्डोली में भाजपा को 973 तो कांग्रेस को 456 वोट मिले। तलावड़ा में भाजपा को 150 तो कांग्रेस को 171 वोट मिले। इसी भेड़ोली में भाजपा को 582 तो कांग्रेस को 278, जामा में भाजपा को 114 तो कांग्रेस को 455 मिले। निमाली में भाजपा को 249 तो कांग्रेस को 416 वोट मिले। निमाली में कांग्रेस को 167 वोटों की बढ़त मिली। कालोता में भाजपा को 569 तो कांग्रेस को 372,खोहरा कला में भाजपा को 427 तो कांग्रेस को 244, काली पहाड़ी में भाजपा को 493 तो कोंग्रेस को 884 वोट मिले। पुरोहिताकाबास में भाजपा को मात्र 153 वोट मिले तो भाजपा को 947 वोट मिले।

 

 

प्रेमपुरा में भाजपा को 247 तो कांग्रेस को 359 मिले। मांगाभाटा मेंभाजपा को मात्र 64 वोट मिले तो कांग्रेस को 562 वोट मिले। भांकरी में भाजपा को 659 तो कोंग्रेस को 592 वोट मिले। इसी प्रकार रामपुरा में भाजपा को 67 तो कांग्रेस को 384, जौपाड़ा में भाजपा को 415 तो कांग्रेस को 277, लोटवाड़ा में भाजपा को 122 तो कांग्रेस को 228 वोट मिले। पालावास में भाजपा केा 268 तो कांग्रेस को 171, पाड़ली में भाजपा को 164 तो कांग्रेस को 232, मित्रपुरा में भाजपा को 159 तो कांग्रेस को 221 मिले। महेश्वरा खुर्द में भाजपा को 409 तो कांग्रेस को 701 वोट मिले। इसी प्रकार जसौता में भाजपा को 701 तो कांग्रेस को 647 , बनेठा में भाजपा को 58 तो कांग्रेस को 264 वोट मिले। इसी प्रकार रोहड़ा में भाजपा को 54 तो कांग्रेस को 698 वोट मिले।

 

 

हरिपुरा में भाजपा को 315 तो कांगे्रस को 675, मोड़ा रायपुरा में भाजपा को 267 तो कांग्रेस को 196, खुरी में भाजपा को 572 तो कांग्रेस को 796 वोट मिले। इसी प्रकार झेरा में भाजपा को 362 तो कांग्रेस को 141, बिहारीपुरा में भाजपा को 646 तो कांगे्रस को 49, चांदराना में भाजपा को 533 तो कांगे्रस को 759, मालपुरा में भाजपा को 100 तो कांग्रेस को 532, सीतापुरा में भाजपा को 182 तो कांग्रेस को 394, नांगलबैरसी में भाजपाको 311 तो कांग्रेस को 668 वोट मिले। इसी प्रकार खैरवाल में भाजपा को 615 तो कांगे्रस को 484 वोट मिले। बरखेड़ा में भाजपा को 373 तो कांग्रेस को यहां 387 वोट मिले। यहां पर कांग्रेस मात्र 14 वोटों से जीती है। इसी प्रकार चावण्डेडा में भाजपा को 471 तो कांगे्रस को 284, भण्डाना में भाजपा को 637 तो कांग्रेस को 594 वोट मिले। जीरोता में भाजप को 1044 तो कांग्रेस को 1023 वोट मिले। यहां भाजपा को मात्र 21 वोटों की बढ़त मिली।

Congress
gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned