दौसा जिले में पिछले दो दिन में कोरोना ने छीन ली 10 जिंदगियां

महामारी का कहर: मरीजों का आंकड़ा बढऩे के साथ मौतों का सिलसिला भी नहीं थम रहा

By: Rajendra Jain

Updated: 03 May 2021, 10:32 AM IST

दौसा. जिले में कोरोना वायरस अब यमदूत बन कर प्रतिदिन जिंदगियां छीन रहा है। लगातार मौत का आंकड़ा बढ़ता रहा है। जिले में कोरोना से शनिवार रात एवं रविवार को दस जनों की मौत हो गई। इससे चिकित्सा विभाग व प्रशासन में हड़कम्प मचा हुआ है। हालांकि चिकित्सा विभाग आंकड़े बढऩे के डर से मौतों को छिपाने के प्रयास भी करता नजर आया। दरअसल जिन मरीजों की आरटीपीसीआर जांच कराने के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट है, उनको ही कोरोना से मौत मान रहा है, जबकि जो मरीज सिटी स्कैन कराने के बाद आए गंभीरावस्था में भर्ती हो रहे हैं उनको दौसा अस्पताल के चिकित्सक कोरोना से मौत नहीं मान रहे हैं।
पीएमओ डॉ. सीएल मीना ने बताया कि महुवा के रामगढ़ निवासी मीरा देवी (45), बसवा निवासी सुशीला देवी (30), डिडवाना निवासी रामजीलाल, टूडियाना निवासी नरसीलाल, अनितादेवी व मुस्ताफ की मौत हो गई। इनके अलावा दौसा के विद्युत निगम में कार्यरत कर्मचारी भरतलाल मीना, एयू बैंक के कर्मचारी राजेन्द्र गुर्जर की मौत की खबर भी सामने आई।
वहीं दोपहर में जिला अस्पताल की आईसीयू में नगरपरिषद उपसभापति कल्पना जैमन के पिता रामजीलाल शर्मा की भी मौत हो गई। इससे पहले उनका मेडिकल वार्ड में भर्ती कर उपचार किया गया। लगातार हालत बिगडऩे पर आईसीयू में लाया गया, लेकिन बचाया नहीं जा सका। इसी तरह जयपुर के खण्डाका अस्पताल में भर्ती मंडावर के ज्वैलरी व्यवसायी जगदीश सोनी (73) ने भी कोरोना से संघर्ष करते हुए दम तोड़ दिया। जिले में हर तरफ मौतों की खबर से हर कोई सन्न है। लोग अब महामारी से मुक्ति की प्रार्थना करने लगे हैं।
मौत का आंकड़ा बताने से कतराते रहे
जिले में कोरोना संक्रमण से एक के बाद एक मौत होने से बढ़ रहे आंकड़े से चिकित्सा महकमे में हड़कम्प मच गया है। चिकित्सा विभाग के अधिकारी कोरोना संक्रमण से हो रही मौत की जानकारी बताने से कतरा रहे हैं। आंकड़ों में अभी तक 40 मौत ही दर्शा रखी है, जबकि इससे कहीं अधिक संख्या में लोग काल का ग्रास बन चुके हैं। अस्पताल सूत्र बीते चौबीस घंटों में नौ मौत होने की बात की जानकारी दे रहे हैं, हालांकि अस्पताल प्रशासन ने इस आंकड़े की पुष्टि नहीं की। वहीं चिकित्सक मौतों को लेकर जानकारी मांगने पर एक-दूसरे का नाम लेते रहे। (कासं./ निसं)
एक सप्ताह मंडी बंद: लालसोट. ग्रेन मर्चेन्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सत्यनारायण चैनपुरा ने बताया कि कोरोना संक्रमण की भयावहता को देखते हुए 9 मई तक कामकाज बंद रखने का निर्णय किया है।

कोरोना संक्रमित दो जनों की मौत
से हड़कम्प
मंडावर. तहसील क्षेत्र में कोरोना महामारी ने दो जनों की जान ले ली। इससे लोगों में हड़कम्प मचा हुआ है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. विजयनामा ने बताया कि सहायक विकास अधिकारी महुवा के पद पर कार्यरत मंडावर निवासी ओमप्रकाश शर्मा की करीब 6 दिनों से तबीयत खराब थी। उन्होंने 24 अप्रेल को कोरोना जांच का सैम्पल दिया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें होम क्वारंटीन कर उपचार शुरू कर दिया गया। चार दिन पूर्व शर्मा अपनी पत्नी के साथ अस्पताल आकर दवा लेकर गए थे। शनिवार को अचानक तबीयत बिगडऩे से सांस लेने में परेशानी आने लगी। इसके बाद परिजनों ने कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराने का प्रयास किया, लेकिन दिल्ली, जयपुर सहित कहीं भी वेंटीलेटर की व्यवस्था नहीं हो पाई। इसके कारण ओमप्रकाश ने तड़पते-तड़पते दम तोड़ दिया। पीपीई किट पहनकर परिजनों ने अंतिम संस्कार किया।
वहीं सूर्यनगर कॉलोनी निवासी 42 वर्षीय मनोज जैन को भी 10 दिन पहले खांसी-जुकाम के लक्षण आए थे। कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर वह अपने भाई के पास दौसा जाकर इलाज करवा रहा था कि अचानक शनिवार को मनोज को सांस लेने में तकलीफ होने पर ऑक्सीजन लेवल गिरता चला गया। कुछ देर में मनोज ने दम तोड़ दिया।

Corona virus
Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned