कोरोना वायरस . रेलवे ने 14 अप्रेल तक की ट्रेनें निरस्त

-रेलवे स्टेशनों पर पसरा हुआ है सन्नाटा

बांदीकुई. रेलवे बोर्ड की ओर से कोरोना वायरस के चलते पैसेंजर एवं एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन बंद होने की समयावधि बढ़ाकर आगामी 14 अप्रेल रात 12 बजे कर दी है। गौरतलब है कि पहले इन ट्रेनों का संचालन 31 मार्च तक पूरी तरह बंद कर दिया गया था, लेकिन प्रधानमंत्री के लॉक डाउन बढ़ाने के साथ ही ट्रेनों के रद्द होने की समयावधि भी बढ़ा दी गई है। वरिष्ठ जन सम्पर्क अधिकारी उत्तर-पश्चिम रेलवे जयपुर ने बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए रेल सेवाओं का संचालन 14 अप्रेल तक रद्द कर दिया है।

रेलवे के प्रारंभिक स्टेशनों से रवाना होने वाली सभी मेल/एक्सप्रेस, इंटरसिटी प्रीमियम ट्रेनें एवं सभी सवारी गाडिय़ां बंद रहेंगी। हालांकि देश के विभिन्न भागों में आवश्यक सामग्री की आपूर्ति के लिए मालगाडिय़ों का संचालन जारी रहेगा। रद्द की गई ट्रेनों के यात्रियों की सुविधा के लिए टिकट धन वापसी के लिए 21 जून तक विशेष व्यवस्था की गई है। इसमें जयपुर मण्डल की करीब सौ मेल एक्सप्रेस एवं 136 पैसेंजर ट्रेनें शामिल हैं। खास बात यह है कि बांदीकुई होकर अप-डाउन में करीब 110 ट्रेनें गुजरती हैं, लेकिन इन ट्रेनों का संचालन बंद होने से स्टेशन पर पूरी तरह सन्नाटा पसरा हुआ है। इससे रेलवे को भी राजस्व आय का नुकसान हो रहा है।
ट्रेनों के खाली रैक पहुंचाए गंतव्य
रेल प्रशासन की ओर से एक्सप्रेस ट्रेनों के खाली रैकों को गंतव्य के लिए पहुंचाया जा रहा है। बुधवार को वाराणासी से जोधपुर के लिए खाली रैक पहुंचाया गया। जो कि बांदीकुई होकर गुजरा। जबकि चण्डीगढ़ एक्सप्रेस का भी रैक गंतव्य के लिए रवाना किया गया। इससे पहले मंगलवार को भी करीब आधा दर्जन ट्रेनों के खाली रैक गुजारे गए। हालांकि अब रेल प्रशासन रैकों को लेकर भी सतर्क हो गया है कि कहीं रास्ते में ट्रेन का ठहराव हो और यात्री सवार हो जाए। इसको लेकर भी सतर्कता बरती जा रही है।


ट्रेक मेंटीनेंस का एक साथ काम कर रहे हैं गैंगमैन
भले ही रेल प्रशासन कोरोना वायरस को लेकर सतर्कता बरत रहा है, लेकिन बांदीकुई-जयपुर रेल मार्ग पर इन दिनों गैंगमैन ट्रेक की सार-संभाल में लगे हुए हैं, लेकिन इन गैंगमैन के पास ना तो मास्क हैं औ ना ही सेनेटाइजर। खास बात तो यह है कि सरकार की ओर से दिन में कई बार साबुन से हाथ धोए जाने के भी निर्देश हैं, लेकिन रेलवे ट्रेक के आस-पास पानी की भी कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे रेल प्रशासन को सतर्कता बरतते हुए बचाव के लिए संसाधन उपलब्ध कराएं।

Corona virus
Rajendra Jain Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned