दौसा व लवाण तहसील के बनेंगे नए भवन

सार्वजनिक निर्माण विभाग को प्रस्ताव बनाकर भेज दिया

By: Rajendra Jain

Published: 02 Mar 2019, 10:57 AM IST

दौसा. सब कुछ ठीक ठाक रहा तो दौसा व लवाण तहसील के नए भवनों का निर्माण होगा। इसके लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग को प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है। दोनों तहसील के भवन के नही होने से दौसा तहसील एक हाल पटवारी व कर्मियों के लिए और एक कमरा तहसीलदार के लिए है। जो राजस्व के कामगजात भी सही रूप से नहीं रख सकते हैं।
जानकारी के अनुसार 10 अप्रेल 1991 को दौसा जिला बना।

तब से ही दौसा तहसील कलक्ट्रेट भवन के निचले हिस्से में संचालित है। इससे यहां आने-जाने वाले काश्तकारों को परेशानी होती है। जगह के अभाव में पटवारी किराए के कमरे लेकर रह रहे हैं। ऐसे में काश्तकारों को पटवारी के कमरों व तहसील कार्यालय के चक्कर काटने पड़ रहे है। दौसा तहसील में 110 राजस्व गांव है व 56 कर्मचारी कार्यरत हैं।जहां बैठने की जगह भी नहीं है। नए भवन बनेंगे तो कर्मचारियों सहित ग्रामीणों को फायदा मिलेगा। 9 अक्टूबर 1999 में लवाण को उप तहसील तथा वर्ष 2013 में लवाण को तहसील का दर्जा मिला।

इसी तहसील कार्यालय में पटवार घर संचालित है। कस्बे में जो तहसील भवन चल रहा है, यह कचहरी है इसमें पहले राजा-महाराजा सुनवाई करते थे। कस्बे की तहसील में 56 राजस्व गांव आते हैं तथा 35-40 कर्मचारियों का स्टाफ है बैठने के लिए जगह ही नहीं रहती है।ऐसे में किराये के भवन में कर्मचारी रहने को मजबूर हो रहे है। राजस्थान पटवार संघ के जिला अध्यक्ष विजयसिंह जाटव ने बताया कि दौसा व लवाण तहसील के नए भवन बनेंगे।

दोनों के लिए 1.25 लाख,1.25 की राशि की लागत से भवन बनेगे। भवनों के बनने से कर्मचारी अपने राजस्व कामकाज सही तरीके से कर सकेगे और सुरक्षित भी रहेंगे। तहसीलदार लवाण शरद तिवारी ने बताया कि राजस्व बोर्ड को कई बार नया भवन बनाने के लिए प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है। नए भवन बनेंगे तो ग्रामीणों को फायदा मिलेगा।


लालसोट. क्षेत्र के गांवों में खराब पड़े हैडपंपोंं को सुधारने के लिए जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने शुक्रवार से अभियान शुरू कर दिया। विभाग के अभियंता निरंजन लाल मीना ने बताया कि अभियान के तहत प्रतिदिन विभाग के दो दल अलग अलग ग्राम पंचायतों में हैडपंप सुधारने का कार्य करेंगे। शुक्रवार को सोनड़ व टोडा ठेकला ग्राम पंचायत क्षेत्रों के खराब हैडपंप दुरुस्त किए गए।

इसके बाद 2 मार्च को बिदरखा व खेमावास, 3 मार्च को हेमल्यावाला व खेड़ला खुर्द, 4 मार्च को बिछ्या व सूरतपुरा, 5 मार्च को गांगल्यावास व मंडावरी, 6 मार्च को रामगढ़ पचवारा व किशोरपुरा, 7 मार्च को अमराबादी व पट्टी किशोरपुरा, 8 मार्च को डिडवाना व महारिया, 9 मार्च को निजामपुरा बिलौणा खुर्द, 10 मार्च को राजोली व कांकरिया, 11 मार्च को डिगो व बगड़ी, 12 मार्च बिलौणा कलां व इंदावा, 13 मार्च को खंटूबर व खटवा, 14 मार्च को सलेमपुरा व लालपुरा, 15 मार्च को कोलीवाड़ा व मिर्जापुरा, 16 मार्च को पाुलंदा व देवली, 17 मार्च को राहुवास व श्रीमा, 18 मार्च को डोब व तलावगाव, 19 मार्च को नयावास व होदायली, 20 मार्च को कालूवास व शिवसिंहपुरा, 21 मार्च को कल्लवास व चांदसेन, 22 मार्च को डूंगरपुर व चौण्डियावास, 23 मार्च निर्झरना व दौलतपुरा ग्राम पंचायत क्षेत्रों मेंं यह दल पहुंच कर खराब पड़ेे हैंडपंपों को दुरुस्त करेंगे।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned