दौसा साइलेंट हीरो : वॉर रूम से कोरोना जंग में निभा रहे भागीदारी

लॉकडाउन में कर रहे राशन सामग्री व अन्य समाधान , जिले में अभी तक करीब 700 से अधिक मामलों का निस्तारण

By: Mahesh Jain

Published: 18 Apr 2020, 06:03 PM IST

दौसा. Dausa Silent Hero: Participation in Corona Jung from War Roomकोरोना से लड़ाई में जहां चिकित्सा विभाग के योद्धा प्रत्यक्ष रूप से मैदान में हैं तो वहीं सैकड़ों कर्मचारी-अधिकारी ऐसे भी हैं जो परदे के पीछे से इस जंग में भागीदार हैं। इसी तरह की एक टीम है जिला वार व कंट्रोल रूम की। इस वार रूम से कोरोना आपदा से प्रभावित लोगों की मदद की जा रही है। वहीं सभी तरह के कार्यों का समन्वय हो रहा है।


लॉकडाउन व कफ्र्यू के दौरान राशन सामग्री व अन्य समस्याओं के समाधान के लिए जिला कलक्ट्रेट में वॉर रूम व कंट्रोल रूम बनाकर कई अधिकारी व कर्मचारी काम कर रहे हैं। लोगों की समस्याओं को सुनकर सम्बंधित विभाग को बताकर पालना रिपोर्ट भी ली जाती है। अगर दौसा या बांदीकुई में किसी जरुरतमंद को खाद्य सामग्री की जरुरत है तो वहां के नगर निकाय को अवगत कराया जाता है। इसी तरह गांव का मामला आता है तो पंचायत प्रशासन से तत्काल कार्य करने को कहा जाता है। सुरक्षा या चिकित्सा से जुड़ी शिकायत आने पर पुलिस व चिकित्सा विभाग को बताया जाता है।


जानकारी के अनुसार अभी तक करीब 700 से अधिक मामलों का निस्तारण किया जा चुका है। इनमें अधिकतर राशन सामग्री का अभाव होने से जुड़ी शिकायतें थी। बाहर से आए व्यक्तियों, चिकित्सकीय आवश्यकता, राशन डीलरों की शिकायत, साफ-सफाई आदि प्रकरण भी आए। शिकायतों की पालना रिपोर्ट भी सम्बंधित विभाग से ली जाती है। जिला कलक्टर के यहां से भी प्रकरण वॉर रूम को भेजे जाते हैं। कंट्रोल रूम के नंबर 01427-224903 है।

ये कार्मिक हैं तैनात
वॉर रूम के प्रभारी अतिरिक्त जिला कलक्टर लोकेश मीना हैं। उनके पास कार्यालय के अलावा फील्ड के दौरे का भी कार्य रहता है। वॉर रूम में महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक युगलकिशोर मीना, जिला अल्पसंख्यक अधिकारी बलवीरङ्क्षसह गुर्जर, संयुक्त निदेशक पशुपालन विभाग निरंजन शर्मा, आयुर्वेद उपनिदेशक सुधीरकुमार चतुर्वेदी, बाल संरक्षण इकाई सहायक निदेशक रोहित जैन व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक राजेन्द्रसिंह गुर्जर आदि अधिकारी शामिल हैं। वहीं कंट्रोल रूम में प्रभारी जिला रोजगार अधिकारी जगदीश निर्वाण, एडीईओ मा. रामनिवास शर्मा, समसा सहायक निदेशक राजीव शर्मा, एडीईओ प्रा. गंगालहरी शर्मा, समसा एपीसी अशोक शर्मा, सूचना सहायक लोकेश शर्मा आदि शामिल हैं। सुबह 6 से दोपहर 2, 2 से रात 10 तथा 10 से सुबह 6 बजे तक तीन शिफ्ट में कंट्रोल रूम 24 घंटे चलता है।


एक संदिग्ध को भिजवाया
महुवा. मुख्य ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. रमेश बैरवा ने बताया कि पाली ग्राम पंचायत के झलेरी की कोठी निवासी एक जना टोडाभीम से आया था जिसको जांच के बाद जिला अस्पताल भिजवा दिया गया है। वहीं उन्होंने बताया कि संदिग्ध के परिजनों की भी जांच करवाई गई है।दौसा साइलेंट हीरो : वॉर रूम से कोरोना जंग में निभा रहे भागीदारी

दौसा साइलेंट हीरो : वॉर रूम से कोरोना जंग में निभा रहे भागीदारी
Mahesh Jain Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned