scriptDausa. Water worth 1.5 crores being sold per month, water traders taki | दौसा.प्रतिमाह बिक रहा डेढ़ करोड़ का पानी, किल्लत का फायदा उठा रहे पानी के कारोबारी | Patrika News

दौसा.प्रतिमाह बिक रहा डेढ़ करोड़ का पानी, किल्लत का फायदा उठा रहे पानी के कारोबारी

घरों व दुकानों में पीने के लिए कैम्पर खरीदने को मजबूर शहरवासी

दौसा

Published: February 21, 2022 10:12:44 am

दौसा. शहर में पेयजल किल्लत के नाम पर पानी का कारोबार जमकर फल-फूल रहा है। साल दर साल इस धंधे में बढ़ोतरी हो रही है। अनुमान के मुताबिक शहरवासी पीने के लिए प्रतिमाह करीब डेढ़ करोड़ का पानी खरीद लेते हैं।
जिला मुख्यालय पर जलदाय विभाग चार-पांच दिन में एक बार जलापूर्ति करता है, लेकिन वह पानी लोगों के गले नहीं उतरता है। फ्लोराइड व खारापन होने के कारण लोग नलों से आने वाले पानी को गृहकार्य में काम लेते हैं, पीने के लिए अधिकतर घरों व प्रतिष्ठानों में आरओ वाटर सप्लायर्स से कैम्पर का पानी प्रतिदिन खरीदा जाता है। एकल परिवार का काम एक कैम्पर से चल जाता है तो संयुक्त परिवार दो से तीन कैम्पर पानी प्रतिदिन खरीदने को मजबूर है। इसी तरह दुकानों पर होता है। प्रति कैम्पर दर 15 से 20 रुपए तक है। अनुमान के मुताबिक दौसा में करीब तीन दर्जन सप्लायर हैं तथा करीब ढाई लाख लीटर पानी प्रतिदिन शहर में बिक जाता है। ऐसे में करीब 5 लाख प्रतिदिन तथा 1.50 करोड़ प्रतिमाह का व्यापार शुद्ध पानी मुहैया कराने के नाम पर हो रहा है।
खास बात यह है कि आरओ के नाम पर सप्लाई होने वाले पानी की शुद्धता की कोई जांच नहीं होती। टैंकरों के पानी को ही रसायन मिलाकर बेच दिया जाता है।
दौसा.प्रतिमाह बिक रहा डेढ़ करोड़ का पानी, किल्लत का फायदा उठा रहे पानी के कारोबारी
दौसा की कॉलोनी में पानी की सप्लाई करता सप्लायर का वाहन।
सुबह दौड़ते हैं पानी से भरे वाहन
दौसा शहर में सुबह 7 बजे से दोपहर करीब 12 बजे तक हर गली-मोहल्ले व बाजार में आरओ के पानी से भरे वाहन दौड़ते रहते हैं। इन वाहनों में बड़ी-बड़ी टंकियों में पानी भरा रहता है। पाइप के माध्यम से घरों और दुकानों के आगे कैम्पर में भर देते हैं। गर्मियां आते ही यह कारोबार और गति पकड़ लेगा। हालात यह हो जाते हैं किसी नए ग्राहक को जुडऩे के लिए सिफारिशें तक करनी पड़ जाती हैं।

होदायली से 72 से 96 घंटे में जलापूर्ति होती है, लेकिन सप्लाई का समय 20 से 30 मिनट रहता है। पानी की क्वालिटी खराब है। पहले घर में आरओ मशीन लगवाई, लेकिन वह भी जल्दी ही जवाब दे गई। ऐसे में अब प्रतिदिन कैम्पर का पानी खरीदना पड़ता है।
-अंजली शर्मा, गणेश नगर
इलाके में पाइप लाइन नहीं है। सरकारी टैंकर पार्षद अपने चहेतों के यहां ही खाली करवाते हैं। जलदाय विभाग में शिकायत करने के बाद भी कुछ समाधान नहीं हुआ। घर में लगा बोङ्क्षरग भी गर्मियों में पानी देना बंद कर देता है। मजबूरी में टैंकर व कैम्पर का पानी खरीदकर जीवन-यापन करना पड़ता है।
- अक्षय मीना, आदर्श मीना कॉलोनी
गत कई वर्षों से आनंद कालोनी के 10 परिवार पीने के पानी को तरस रहे हैं, जबकि अन्य घरों में सप्लाई होती है। काफी समय से अधिकारियों से लाइन डालने के कर रहे हैं, लेकिन अधिकारी बहाने बनाते हैं। पार्षद के चहेतों पर ही टैंकरों से सप्लाई की मेहरबानी होती है।
- एमएल शर्मा, आनंद कॉलोनी
दौसा की कॉलोनी में पानी की सप्लाई करता सप्लायर का वाहन।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

Texas School Firing : अमरीका फिर लहूलुहान, 18 वर्षीय युवक की अंधाधुंध फायरिंग में 14 छात्र और एक टीचर की मौतमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.