माधोसागर बांध में चंबल का पानी लाने की मांग: राज्यसभा सांसद किरोड़ी ने सैकड़ों समर्थकों के साथ किया पैदल कूच सिकराय एडीएम को सौपा ज्ञापन

माधोसागर बांध में चंबल का पानी लाने की मांग: राज्यसभा सांसद किरोड़ी ने सैकड़ों समर्थकों के साथ किया पैदल कूच  सिकराय एडीएम को सौपा ज्ञापन

Mahesh Jain | Publish: Sep, 07 2018 08:16:24 PM (IST) Dausa, Rajasthan, India

सिकराय एडीएम को सौपा ज्ञापन

दौसा.गीजगढ़/ मानपुर. कडीकोठी चौराहे से शुक्रवार दोपहर को राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा ने हजारों समर्थकों के साथ नारा लगाते हुए जिले के सबसे बड़े माधोसागर बांध को पूर्वी नहर परियोजना के प्रथम चरण में जोडऩे के लिए केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री के नाम ज्ञापन सिकराय उपजिला कलक्टर को देने लिए पैदल ही कूच किया।

जानकारी के अनुसार राज्य सरकार द्वारा चम्बल व उसकी सहायक नदियों को पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों में सिंचाई व पेयजल के लिए उपलब्ध कराने के लिए भरत सरकार को इस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट जो पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना के नाम से भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा है।इसके प्रथम चरण में 13 जिलों के लिए 37 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान है। इसमें दौसा जिला तो शामिल है लेकिन जिले के गांव घूमणा में जिले के सबसे बड़े माधों सागर को इस योजना में सम्मिलित नहीं किया।


इसको लेकर राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा व विधायक गीता वर्मा अपने हजारों समर्थको व आसपास के ग्रामीणों के साथ कडी कोठी चौराहे से डीजे के साथ चम्बल का पानी लाना है नारा लगाते हुए कडीकोठी से करीब पांच किलोमीटर दूर सिकराय मुख्यालय से पांच किमी. पैदल पहुंचे। जहां पहले से मौजूद दौसा एडीएम राजवीर सिंह व सिकराय उपजिला कलक्टर मीनाक्षी मीना को केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गड़करी के नाम ज्ञापन सौंपा।


इस दौरान पूर्व प्रधान रामप्रसाद मीणा, विक्रम बंशीवाल, भीमसिंह घूमणा, धुंधी मीणा, शिवजी घूमणा, दयाराम मीणा, जयनारायण जोध्या, कैलाश बैरवा, अंगदराम, जगमोहन कालाखो सहित अनेक समर्थक मौजूद थे।


वाहनों का लगा काफिला


सांसद किरोड़ी के पैदल कूच में उनके साथ हजारों समर्थकों के अलावा सैकड़ो वाहनों का काफिला उनके पीछे चल रहा था। कार्यक्रम को लेकर चप्पे चप्पे पर पुलिस नजर आई ।


उपसभापति का नगर परिषद के बाहर धरना जारी

दौसा. नगर परिषद क्षेत्र में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण कराने वाले परिवारों को दस दिन में भुगतान दिलाने सहित 18 अन्य मांगों को लेकर नगरपरिषद कार्यालय के बाहर तीसरे दिन शुक्रवार को धरना जारी रहा। नगरपरिषद के उपसभापति वीरेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में दिए जा रहे धरने पर बैठे लोगों ने बताया कि शौचालय निर्माण कराने वाले परिवारों को अभी तक भुगतान नहीं मिला है। इससे उन परिवारों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।


उपसभापति ने बताया कि पात्र परिवारों को मकान बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए की आर्थिक सहायता मिले। जिला मुख्यालय पर बाहर से नौकरी करने वाले वाले कर्मचारी व अधिकारियों को जिला मुख्यायल पर ही रहने के लिए पाबंद किया जाए। गलत तरीके से दिए गए सफाई ठेके की जांच कर तीसरे पक्ष से सफाई कराई जाए।


गाडिय़ा लुहार, बागरियाओं के परिवारों को सितम्बर महीने में ही नि:शुल्क भूमि पट्टे दिए जाने एवं गुप्तेश्वर रोड पर गौरवपथ निर्माण के लिए गलत तरीके से तोड़े गए मकानों के विषय में पूरी सड़क का तहसीलदार दौसा व टाउन प्लानर जयपुर के अधिकारियों को साथ लेकर पुन: सीमांकन कराया जाने सहित अन्य मांगों को पूरा करने की गुर्हा की। उन्होंने बताया कि मांगों के पूरा नहीं होने तक धरना जारी रहेगा।

राज्यसभा सांसद किरोड़ी ने सैकड़ों समर्थकों के साथ किया पैदल कूच  सिकराय एडीएम को सौपा ज्ञापन

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned