डिस्कॉम स्वयं के फायदे के लिए कर रहा है अघोषित बिजली कटौती

Discom is doing undisclosed power cuts for its own benefit: विद्यार्थियों की पढ़ाई चौपट, किसानों को भी नहीं दी जा रही है तय समय बिजली

By: gaurav khandelwal

Updated: 03 Jan 2020, 09:07 AM IST

दौसा. जिलेभर में अघोषित बिजली कटौती ने दसवीं व बारहवीं बोर्ड परीक्षा में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों की पढ़ाई चौपट कर दी है। डिस्कॉम सिंगल फेज बिजली को भी थ्री फेज बिजली की तरह रोस्टर बना कर सप्लाई कर रहा है। जिले में जब से रबी की फसलों की बुवाई हुई है, तभी से डिस्कॉम ने सिंगल फेज बिजली को थ्री फेज बिजली की तरह आपूर्ति करना शुरू कर दिया है। डिस्कॉम ग्रामीण इलाकों में सिंगल फेज बिजली को एक सप्ताह पूरी रात सप्लाई करता है तो फिर दूसरे सप्लाई रात साढ़े 10 बजे बिजली काट लेता है और सुबह 6 बजे सप्लाई चालू करता है।

Discom is doing undisclosed power cuts for its own benefit

इसी तर्ज पर थ्री फेज बिजली की आपूर्ति की जा रही है। विद्यार्थियों को एक महीने में दो सप्ताह तो पूरी रात बिजली मिल जाती है, जबकि दो सप्ताह रात साढ़े 10 से सुबह 6 बजे तक बिजली नहीं मिल पा रही है। इससे देर रात तक एवं सुबह जल्दी उठ कर पढ़ाई करने वाले बोर्ड परीक्षा के विद्यार्थियों को पढ़ाई का नुकसान हो रहा है। किसानों को भी तय समय बिजली नहीं मिल पा रही है। इससे उनकी फसलें भी सूखने के कगार पर है।


मौखिक आदेश से ही चल रहा है काम


बिजली सप्लाई की अघोषित कटौती का काम डिस्कॉम के अधिकारी कागजों की बजाय मौखिक ही कर रहा है, ताकि चोरी व छीजत का आंकड़ा कम हो। इस सम्बन्ध में जब ग्रामीण इलाकों में 33/11 केवी फीडरों पर तैनात कर्मचारियों से बात की जाती है, तो उनसे जवाब देते हैं कि आगे से अधिकारियों ने मौखिक निर्देश दे रखे हैं। लेकिन जब अधिकारियों से बात की जाती है तो कहते हैं कि ऐसा नहीं है सिंगल फेज बिजली की आपूर्ति पूरे 24 घंटे की जा रही है। कटौती बिल्कुल ही नहीं की जा रही है। जबकि कई वर्षों पहले ही सरकार ने सिंगल फेज बिजली 24 घंटे आपूर्ति करने के आदेश जारी कर रखे हैं, लेकिन पिछले कई वर्षों से डिस्कॉम के अधिकारी रबी की फसलों के समय सिंगलफेज की भी जमकर कटौती कर रहे हैं।

केरोसिन नहीं मिलने से लैम्प व लालटेन भी नहीं कर रहे हैं उजाला


ग्रामीण इलाकों में लोगों को रसोई गैस सिलेण्डर देने के बाद रसद विभाग ने राशन डीलरों के यहां केरोसिन की सप्लाई भी बंद कर दी है। इससे अब लोगों के घरों में चिमनी, लैम्प व लालटेन भी नहीं जल पाती है। यदि लोगों को करोसिन मिले तो बिजली गुल होने पर वे चिमनी, लैम्प व लालटेन से ही रोशनी कर बालकों की पढ़ाई कराए।

Discom is doing undisclosed power cuts for its own benefit

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned