पशु चिकित्सालय में अव्यवस्था, अधिकांश कर्मचारी नदारद

पशु चिकित्सालय में अव्यवस्था, अधिकांश कर्मचारी नदारद

Gaurav Kumar Khandelwal | Publish: Sep, 08 2018 09:09:14 AM (IST) Dausa, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

लालसोट. शहर के पशु चिकित्सालय में व्याप्त अव्यवस्थाओं को लेकर शुक्रवार को गौ सेवा युवा समिति एवं लालसोट विकास मोर्चा कार्यकर्ताओं ने उपखंड अधिकारी सुनील आर्य को ज्ञापन देकर चिकित्सालय में पशुओं के इलाज की बेहतर चिकित्सा व्यवस्था कराने की मांग की है ।

 

गौ सेवा युवा समिति के अध्यक्ष रवि मालनिया व लालसोट विकास मोर्चा अध्यक्ष शिव शंकर जोशी की अगुवाई में दिए गए ज्ञापन में बताया कि लालसोट में प्रथम श्रेणी का पशु चिकित्सालय होने के बाद भी यहां अधिकांश कर्मचारी नदारद रहते हैं। चिकित्सालय परिसर में गंदगी व कीचड़ का जमावड़ा बना हुआ है। चिकित्सालय का प्रवेशद्वार चौबीस घंटे खुला रहता है। इससे यहां आवारा पशुओं का जमावड़ा रहता है।

 

गौ सेवा युवा समिति के सचिव चीनू बोहरा, प्रवक्ता अंशुल सोनी, बनवारी लाल मीना, बहादुर डोई, दीपक शर्मा, विशाल मालनिया, सोनू बिनोरी, विकास शर्मा, मोहित गुप्ता, बिट्टू मेहरा, नीरज साहू, बलराम जोशी, रवि त्रिवेदी, राहुल जोशी, अक्षय त्रिवेदी, पुनीत बोहरा, विकास सुदामा, बबलू सैनी, भानु प्रकाश, अभिषेक जोशी, शेर सिंह, अर्पित सोनी, राहुल झालानी,रोहित, जीतू शर्मा, अक्षित जांगिड समेत कई युवा कार्यकर्ता मौजूद थे।

 


कर्मचारी हितों पर कुठाराघात बर्दाश्त नहीं-गुलाबसिंह


बांदीकुई. राÓय मंत्रालयिक कर्मचारी संघ के आह्वान पर तीसरे दिन शुक्रवार को भी कर्मचारियों ने कार्य का बहिष्कार कर विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद दोपहर को महाराणा प्रताप सभागार में बैठक आयोजित की। इसमें वरिष्ठ प्रदेशाध्यक्ष गुलाबसिंह कुशवाह ने कहा कि कर्मचारी हितों पर कुठाराघात बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सरकार की ओर से हुए समझौते को अभी तक लागू नहीं किया जा रहा है। ऐसे में मजबूरन प्रदेश स्तरीय आपात बैठक शनिवार को आयोजित होगी। इसमें आन्दोलन की रणनीति तैयार की जाएगी।

 

उन्होंने बताया कि जब तक मांगे पूरी नहीं होती हैं। यह आन्दोलन जारी रहेगा। सरकारी कार्यालयों में मंत्रालयिक कार्मिकों के नहीं बैठने से आमजन को भी खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इस मौके पर सुशील कुमार, भगवानदास, द्वारका प्रसाद मीणा, छोटेलाल, मानसिंह गुर्जर, मुमताज, दिनेंश क ुमार सैनी, महेशचंद, जितेन्द्र शर्मा, त्रिवेणीश्याम शर्मा, खुशालसिंह, संजू सैनी व सुचिता शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए। (नि.सं.)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned