सरकार की अनदेखी छात्रों पर भारी

सरकार की अनदेखी छात्रों पर भारी

Gaurav Kumar Khandelwal | Publish: Aug, 16 2019 10:09:23 AM (IST) Dausa, Dausa, Rajasthan, India

Government ignores heavy on students: राजेश पायलट कॉलेज में पद रिक्त होने से बाधित होती शिक्षण व्यवस्था

बांदीकुई. राजेश पायलट राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में व्याख्याताओं सहित अन्य कार्मिकों के पद रिक्त होने से शिक्षण व्यवस्था बाधित हो रही है, लेकिन कॉलेज शिक्षा प्रशासन का कोई ध्यान नहीं है। कॉलेज क्षेत्र का बड़ा शिक्षण संस्थान है। यहां सिकराय, महुवा, टोडाभीम, नादौती, राजगढ़ एवं थानागाजी क्षेत्र के छात्र अध्ययन करते हैं।

Government ignores heavy on students

 

 

कॉलेज में कुल 43 विभिन्न पद सृजित हैं। इनमें से प्राचार्य सहित 28 पद भरे हुए हैं, जबकि 15 पद रिक्त हैं। इसमें एबीएएसटी 1, जूलॉजी 1, फिजिक्स 1, खेल अधिकारी, पुस्तकालय प्रभारी, सहायक पुस्तकालय प्रभारी, लिपिक 2, कम्प्यूटर प्रोफेसर एक, विज्ञान विषय में लैब ब्वॉय, लैब सहायक एवं तीन सहायक कर्मचारियों के पद रिक्त हैं। महाविद्यालय में करीब 3 हजार छात्र अध्ययनरत हैं। इसके हिसाब से भवन की कमी भी अखरती है। शिक्षण व्यवस्था के लिए मात्र 26 कमरे हैं। इनमें से कुछ कक्ष तो काफी पुराने होने के कारण बारिश होने के साथ ही पानी भी टपकता है।

 

 


कोढ़ में खाज बनी पानी की समस्या


कॉलेज में पानी की समस्या छात्रों व कॉलेज प्रशासन के लिए कोढ़ में खाज बनी हुई है। यहां दो नलकूपों का निर्माण कराया गया था, लेकिन जल स्तर गिर जाने के कारण दोनों नकारा हो गए। जबकि नलकूपों की खुदाई कर सफाई भी करा दी गई। ऐसे में अब टैंकर मंगवाकर छात्रों की प्यास बुझानी पड़ रही है। कॉलेज में लगा वाटर कूलर भी शोपीस बना हुआ है। यदि पानी की व्यवस्था नहीं हुई तो कॉलेज परिसर में लगाए गए पौधों पर भी संकट मंडरा सकता है।

 


पुस्तकालय का नहीं है कोई धणी


कॉलेज परिसर में पुस्तकालय में विभिन्न पुस्तकों का संग्रह होने के बाद भी व्यवस्था ठीक नहीं होने से खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। पुस्तकालय प्रभारी के अभाव के अभाव में छात्रों को पुस्तकें लेने व देने में परेशानी झेलनी पड़ती है।

 


खेल गतिविधियां भी ठप


कॉलेज में लम्बे समय से खेल अधिकारी नहीं होने से खेल गतिविधियां भी ठप हैं। इससे खिलाडिय़ों का खेलों से मोहभंग होता जा रहा है। 5 वर्ष पहले कॉलेज प्रशासन की ओर से बास्केटबॉल खेल मैदान का करीब 4 लाख रुपए खर्च कर निर्माण कराया गया था, लेकिन पीडब्ल्यूडी की ओर से निर्माण कार्य अधूरा छोड़ दिया गया था। इसके चलते खर्च की गई राशि का खिलाडिय़ों को सुविधाएं नहीं होने के कारण लाभ नहीं मिल पा रहा है।

 

 

कॉलेज आयुक्त को करा दिया अवगत
कॉलेज में रिक्त पदों के बारे में पत्र लिखकर आयुक्त को अवगत करा दिया गया है। अब रिक्त पद भरने का काम सरकार का है। पानी के लिए दो नलकूपों का निर्माण कराया, लेकिन जलस्तर चले जाने से समस्या बढ़ गई। फिलहाल टैंकर मंगवाकर काम चला रहे हैं। (नि.सं.)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned