गुर्जरों ने दी RAS परीक्षा नहीं होने देने की चेतावनी, सरकार पर वादा खिलाफी का लगाया आरोप

गुर्जरों ने दी RAS परीक्षा नहीं होने देने की चेतावनी, सरकार पर वादा खिलाफी का लगाया आरोप

abdul bari | Publish: Jun, 24 2019 02:15:16 AM (IST) | Updated: Jun, 24 2019 02:17:28 AM (IST) Dausa, Dausa, Rajasthan, India

गुर्जर समाज ( Gujarat reservation letest news ) ने प्रदेश में 25 जून को आयोजित होने वाली आरएएस मुख्य परीक्षा ( RAS Main Examination ) का विरोध करने की चेतावनी दी है।

दौसा.
आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहे गुर्जर समाज ( Gujarat reservation ) ने प्रदेश में 25 जून को आयोजित होने वाली आरएएस मुख्य परीक्षा ( RAS main examination ) का विरोध करने की चेतावनी दी है। देवनारायण मंदिर परिसर में पत्रकारों से बातचीत में गुर्जर नेताओं ने आरोप लगाया है कि सरकार ने समझौते में प्रक्रियाधीन भर्तियों में पांच फीसदी का आरक्षण देने की घोषणा की थी, लेकिन आरएएस प्री परीक्षा परिणाम एक प्रतिशत आरक्षण पद्धति पर ही जारी हुआ है।

गुर्जर नेताओं ने कहा कि सरकार ने बिना कोई आरक्षण ( gurjar aandolan ) संशोधन के परीक्षा 25 जून को करवाने की तैयारी कर रखी हैं, जो गलत है। इससे गुर्जर समाज के अभ्यर्थियों को चार प्रतिशत का नुकसान हो रहा है। ऐसे में सरकार को परीक्षा स्थगित कर हल निकालना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो गुर्जर समाज परीक्षा केन्द्रों पर पहुंच कर परीक्षा नहीं होने देगा। इस दौरान राजस्थान गुर्जर महासभा के प्रदेशाध्यक्ष मनफूलसिंह तूंगड़, रामप्रसाद पटेल, एडवोकेट जलसिंह कसाना, महावीर रलावत, चरणसिंह बैंसला आदि मौजूद थे। प्रतीकात्मक तस्वीर

 

इधर, गुर्जर समाज ने बेनीवाल के प्रति जताया रोष


दूसरी ओर नागौर से आरएलपी के सांसद हनुमान बेनीवाल ( nagaur MP Hanuman Beniwal ) के डकैत जगन गुर्जर ( Dacoit Jagan Gurjar ) का एनकाउंटर करने की मांग को गुर्जर समाज ने संकीर्ण मानसिकता कऱार दिया है। गुर्जर समाज ( Gurjar community news ) तहसील फुलेरा के अध्यक्ष धीरूभाई रिणगी, महासचिव रूपचंद भड़ाना, सहदेव हाकला, शोभाराम भड़ाना, बरडोटी सरपंच मूलचंद गुर्जर, हनुमान तंवर सहित दर्जनों लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन भेजा है और बेनीवाल के विरुद्ध कार्रवाई करने की मांग की है। ज्ञापन में लिखा है कि डकैतों के पुनर्वास और समाज की मुख्यधारा में शामिल करने के मुद्दे तो जनप्रतिनिधि उठाते आए हैं, लेकिन बेनीवाल एनकाउंटर का मुद्दा उठाकर साम्प्रदायिक सौहाद्र्र बिगाड़ना चाहते हैं। गुर्जर समाज ने हनुमान बेनीवाल से इस मामले में माफी मांगने की भी मांग की है। धीरूभाई ने कहा कि गुर्जर समाज डकैत जगन गुर्जर का पक्ष नहीं लेता, लेकिन कानूनी प्रक्रिया के तहत ही उसे सजा दी जाए। जगन ने सरेंडर कर सामाजिक जीवन जीने की इच्छा जाहिर की थी मगर प्रशासनिक धोखे ने उसे फिर से आतंक मचाने पर मजबूर कर दिया।

यह भी पढ़ें..


बाड़मेर हादसे के खास PHOTOS: तूफान से पंडाल गिरा, केवल एक मिनट में बदल गया मंजर, मची अफरा-तफरी

तेज बारिश-अंधड़ ने मचाई तबाही, टावर और पेड़ हुए धराशायी, 4 जने घायल

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned