अवैध बजरी परिवहन ने ली एक और जान, ग्रामीणों व पुलिस में हुई झड़प

Illegal gravel transport took one more life, clashes between villagers and police: मुआवजा व अन्य मांगों को लेकर शव को सडक़ पर रखकर किया प्रदर्शन

 

By: gaurav khandelwal

Published: 12 Oct 2020, 07:31 PM IST

लालसोट. क्षेत्र में खनिज विभाग एवं पुलिस प्रशासन की अनदेखी से लगातार हो रहे बजरी के अवैध परिवहन ने सोमवार सुबह एक और व्यक्ति की जान ले ली। विजयपुरा गांव के पास गुजर रही बजरी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली ने एक युवक को कुचल दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद मौके पर सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ भी जमा हो गई और आक्रोश जताया। नेशनल हाईवे 11ए पर ले जाकर प्रदर्शन करने जाने के दौरान पुलिस ने ग्रामीणों की भीड़ को तलावगांव के पास में रोक दिया। शिवसिंहपुरा में तो एक दो बार पुलिस व ग्रामीणों के बीच भिड़ंत भी हो गई। इससे मौके पर तनाव के हालात बन गए। इस दौरान पुलिस को हल्का प्रयोग भी करना पड़ा।

Illegal gravel transport took one more life, clashes between villagers and police

सोमवार सुबह करीब साढ़े छह बजे संजय बैरवा (18) पुत्र रामराय बैरवा अपने चाचा रमेश बैरवा के साथ बाइक से तलावगांव से अपने गांव रूंगटी (मित्रपुरा) शिवसिंहपुरा से अपने गांव लौट रहा था। विजयपुरा गांव में रोड के पास रमेश बाइक को रोक कर एक खेत में शौच के लिए चला गया। तभी सामने से आ रही बजरी भरी ट्रैक्टर ट्रॉली ने संजय को कुचलते हुए बाइक को टक्कर मार दी। घटना के बाद ट्रैक्टर ट्रॉली भी पलट गई और चालक भी मौके से भाग छूटा। (नि.प्र)


ग्रामीणों का फूटा रोष

मामले की जानकारी मिलते ही कुछ ही देर में सैकड़ों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। ग्रामीणों ने शव को सडक़ पर रखकर प्रदर्शन व पुलिस के खिलाफ नारे लगाना शुरू कर दिया। मौके पर पहुंची लालसोट पुलिस को भी ग्रामीणों ने खरी खोटी सुनाई । कुछ देर बाद मौके पर लालसोट सीओ सतीश यादव उपखंड अधिकारी गोपाल जांगिड़ व एसएचओ महावीर प्रसाद भी पहुंचे और समझाइश का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीणों ने अपना प्रदर्शन जारी रखा। शक को देखकर परिजन बिलख पड़े। करीब 4 बजे ग्राम ग्रामीण व भाजपा नेता युवक के शव के साथ एनएच 11ए पर सबके साथ जाम लगाने के लिए शिवसिंहपुरा गांव की ओर रवाना हो गए। हरकत में आए पुलिस जाप्ते ने ग्रामीणों को रोकना चाहा तो दोनों पक्षों के बीच झड़प हो गई। कुछ देर के लिए ग्रामीणों व पुलिसकर्मियों में पत्थरबाजी भी हुई


इन मांगों पर अड़े

प्रदर्शन के दौरान मौजूद छात्र नेता अजय लाकड़ा लोकेश डोबवाल, कमलेश बैरवा, गोलू ,प्रकाश चंद, जगमोहन, दयाराम, विक्रम, दीपक, कमल, रामप्रकाश, लक्ष्मीकांत समेत कई युवाओं व ग्रामीण ने मृतक के परिवारजनों को पचास लाख का नकद मुआवजा, एक आश्रित को सरकारी नौकरी, ग्रामीण रास्तों से बजरी वाहनों के आवागमन पर रोक, बजरी के स्टॉक को जब्त करने की मांग की।

मौके पर पहुंचे भाजपा नेता
लालसोट विजयपुरा गांव में बजरी भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली द्वारा कुचलने से एक युवक की मौत के बाद दोपहर बाद मौके पर पूर्व संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल , महाराजपुरा सरपंच हरकेश मटलाना एवं शिव शंकर जोशी समेत कई भाजपा नेता मौके पर पहुंचे ,उन्होंने घटना पर रोष प्रकट करते हुए पीडि़त परिवार को25 लाख का नकद मुआवजा ,एक आश्रित को सरकारी नौकरी, बजरी परिवहन के गोरखधंधे में लिप्त पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने और क्षेत्र में जारी इस बजरी कारोबार की सीबीसीआईडी से जांच कराने की मांग की।(नि. प्र)

लालसोट में बेलगाम है बजरी परिवहन माफिया

लालसोट. क्षेत्र में खनिज विभाग की ढिलाई व पुलिस प्रशासन की चुप्पी से बजरी परिवहन माफिया पूरी तरह बेलगाम है। हालात यह है कि क्षेत्र में बजरी परिवहन माफिया का कारोबार धड़ल्ले से जारी है। खनिज विभाग भी यदा कदा कोई कार्रवाई कर इतिश्री कर लेता है, बजरी भरे वाहन अब कई जनों की जान भी ले चुके हैं। ये वाहन करीब ढाई साल पूर्व एक ही परिवार के चार जनों की जान ले चुके हैं। इसके अलावा बजरी परिवहन माफिया पुलिस कर्मियों को भी अपना निशाना बना चुके हैं। (नि.प्र.)

Illegal gravel transport took one more life, clashes between villagers and police

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned