Video: आमिर की धूम से प्रेरित होकर चोर बन गया युवक, बैंक में लगाई सेंध

लालसोट पुलिस ने किया चोरी का खुलासा, नकदी व सामान जब्त

By: gaurav khandelwal

Updated: 11 Dec 2017, 08:40 PM IST

लालसोट. शहर के ज्योतिबा फुले सर्किल के पास स्थित यूको बैंक की शाखा में शनिवार रात हुई चोरी के मामले मेे गिरफ्तार आरोपित सुनील बैरवा निवासी सलेमपुरा की निशानेदही पर पुलिस ने चुराई गई नकदी व अन्य सभी सामान भी बरामद कर लिया। थाना प्रभारी राजेन्द्र मीना ने बताया कि पुलिस अधीक्षक योगेश यादव व एएसपी सुरेन्द्र सिंह के निर्देश पर उपनिरीक्षक रजत खींची की अगुवाई में पुलिस कर्मी बालकेश, दिलीपकुमार, महेन्द्र बाज्या, धर्मसिंह, रामवतार का दल बना कर मुखबिर की सूचना पर आरोपित सुनील बैरवा निवासी समेलपुरा को गिरफ्तार किया।

 

पूछताछ के बाद उसके पास से 73 हजार 500 रुपए की नकदी और उसके घर से दो बायोमेट्रिक डिवायस, एक सीसी टीवी कैमरा, आलमारी में रखे 750 एटीएम कार्ड, तीन कीबोर्ड, चार यूको बैंक ट्राफी,एक पॉश मशीन, आठ मॉनिटर, आठ एलईडी समेत कई अन्य सामान भी जब्त किया। जांच अधिकारी उपनिरीक्षक रजत खींची ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित सुनील बैरवा को सोमवार को न्यायालय में पेश कर मंगलवार तक पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ जारी है। उम्मीद है कि पूछताछ में अन्य वारदातों का भी खुलासा होगा।

 


जांच अधिकारी खींची ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित सुनील बैरवा से पूछताछ में कई जानकारी मिली है। उन्होंने बताया कि आरोपी का कहना है कि उसे इस तरह की वारदात करने की प्रेरणा आमिर खान की फिल्म धूम 3 को देखकर मिली थी। गौरतलब है कि उक्त फिल्म में भी एक बैंक लूट की घटना का फिल्मांकन किया गया था।

 


गौरतलब है कि गौरतलब है कि 9 दिसम्बर को यूको बैंक की शाखा में सेंध लगाकर केश डिपोजिट मशीन तोड़कर 73 हजार 500 रुपए की नकदी समेत हजारों रुपए मूल्य का अन्य सामान चुराया था।

 

 

बड़ा आदमी बनने की थी ख्वाहिश
जांच अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित सुनील ने पूछताछ में बताया कि उसने बड़ा आदमी बनने की ख्वाहिश से ही इस घटना को अंजाम दिया था। पूछताछ में आरोपित ने पुलिस को बताया कि उसे विजेता की तरह ट्रॉफी उठाने का भी जुनून है और इसी के चलते यूको बैंक की शाखा में प्रबंधक के कक्ष में रखी सभी ट्रॉफी को चोरी की थी।

 


तीन घंटे में दिया चोरी को अंजाम
जांच अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित ने रात करीब 1 बजे बैंक की छत पर पहुंच कर लोहे के सरिए से एगजेस्ट पंखे को हटाकर बैंक में प्रवेश किया था।इसके बाद तीन घंटे तक बैंक के अंदर तोडफ़ोड़ कर घटना को अंजाम दिया था। खींची ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित सुनील बैरवा एक साल पूर्व नोटबंदी के दौरान बैंक में स्थित बाथरुम में जाकर रैकी कर चुका था।इसके बाद गत दिनों वह बैंक की छत पर भी जाकर बाथरुम की छत पर लगे एगजेस्ट पंखे को भी देख चुका था। (नि.प्र.)

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned