Video: लैबोरेटरी टेक्नीशियन कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार

वेतन विसंगतियों को दूर करने की मांग को लेकर अस्पताल में दो घण्टे कार्य का बहिष्कार किया गया।

By: gaurav khandelwal

Published: 22 Aug 2017, 08:34 AM IST

दौसा. अखिल राजस्थान लैबोरेटरी टेक्नीशियन कर्मचारी संघ की ओर से वेतन विसंगतियों को दूर करने की मांग को लेकर सोमवार सुबह ८ से १० बजे तक अस्पताल में दो घण्टे कार्य का बहिष्कार किया गया। यह बहिष्कार २३ अगस्त तक किया जाएगा। इससे नि:शुल्क जांच कराने आने वाले मरीजों को भटकना पडा। जिला अस्पताल मेंं संरक्षक गोपालराम शर्मा, कोषाध्यक्ष कृष्ण कुमार भाटिया एवं रामनिवास मीना के नेतृत्व में कार्मिकों ने कार्य का बहिष्कार किया। उन्होंने बताया कि ग्रेड पे बढ़ाने, मैस भत्ता १२०० रुपए करने, समयबद्ध पदोन्निति करने, संविदा पर कार्यरत कार्मिकों को नियमित करने, पदनाम में संशोधन करने की मांग लम्बित चल रही है, लेकिन सरकार की ओर से कोई सकारात्मक कार्रवाई नहीं हो रही।

 


एक घण्टे ही हुई जांच

 सुबह ८ से १० बजे तक लैब टैक्नीशियनों ने कार्य का बहिष्कार किया। जबकि अस्ततालों में ११ बजे तक ही जांच होती है। ऐसे में एक घंटे तक ही जांच हो पाई। इससे जांच कराने के लिए मरीजों की कतार लग गई। कुछ लोगों को जांच कराए बिना निराश भी लौटना पड़ा।


पटवारियों ने सौंपा ज्ञापन


दौसा. राजस्थान पटवार संघ की ओर से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत कटाई प्रयोगों से पटवारियों को मुक्त करने के लिए जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिलाध्यक्ष विजयसिंह जाटव ने बताया कि फसल बीमा योजना के तहत किसानों को लाभ दिलाने का कार्य कृषि विभाग का है। जबकि पहले से ही पटवारियों के पास कार्य का भार अधिक है। ऐसे में पटवारियों को इस कार्य से मुक्त किया जाए। यदि उन्हें कार्य से मुक्त नहीं किया गया तो इस कार्य का बहिष्कार किया जाएगा।


धरना-प्रदर्शन आज
लालसोट. रामगढ़ पचवारा तहसील मुख्यालय के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में व्याप्त अव्यवस्थाओं के विरोध में युवा मंडल कार्यकर्ताओं की ओर से मंगलवार सुबह दस बजे धरना प्रदर्शन किया जाएगा। नरसीलाल मीना ने बताया कि धरना प्रदर्शन के बाद उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन भी दिया जाएगा।(नि.प्र.)

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned