लॉकडाउन: सख्ती के बाद दिखी नरमी

Lockdown: Softness seen after hardening: नजर आई नियमों की अवहेलना

By: gaurav khandelwal

Published: 30 Mar 2020, 07:19 PM IST

दौसा. जिलेभर में रविवार को जनता कफ्र्यू के बाद सोमवार को पूरे पुलिस व प्रशासन के नरम रुख का लोगों ने जमकर फायदा उठाया। दौसा शहर की सड़कों पर जहां रविवार को इक्के-दुक्के दो पहिया वाहन ही नजर आ रहे थे, वहीं सोमवार को शहर की सड़कों पर बड़ी संख्या में दो पहिए व चौपहिया वाहन सरपट दौड़ते देखे गए। परचून, सब्जी व मेडिकल की दुकानों पर भी अ'छी भीड़ देखने को मिली। राशन की दुकानों पर भी अधिकांश स्थानों पर लॉकडाउन की अवहेलना ही नजर आई।

Lockdown: Softness seen after hardening

नाकों पर बैठे नजर आए पुलिसकर्मी


शहर में जयुपर रोड, आगरा रोड, लासलोट रोड व सैंथल रोड पर पुलिस ने कई जगह प्वाइंट लगा कर पुलिस व होमगार्ड के जवानों को तैनात तो कर रखा है, लेकिन अधिकांश पुलिसकर्मी बंैचों व दुकानों के आगे बैठे ही नजर आए। यह न केवल दौसा की स्थित बल्कि पूरे जिलेभर की यही स्थिति रही। अन्य दिनों पुलिसकर्मी वाहनों की जांच कर आवागमन करने वालों से पूछताछ करते थे। संदिग्धों को रोकते व पूछताछ करने वालों को टोकटे थे। कइयों के वाहनों के खिलाफ भी चालान व जब्ती की कार्रवाई की जा रही थी, लेकिन सोमवार को ऐसा कम दिखाई दे रहा था। यहां दुकानों के आगे भी लोगों का जमघट नजर आ रहा था। जबकि गत दिवस जिला प्रशासन ने आदेश जारी किए थे कि अब सब्जी, मेडिकल, परचूनी की दुकानों पर भी लोग पैदल ही जाकर सामान लेकर आएंगे, लेकिन न लोग आदेशों की पालना कर रहे हैं औ ना ही पुलिसकर्मी ध्यान दे रहे हैं।

यहां तो हालात ही खराब
जिला मुख्यालय व बड़े शहरों को छोड़ कस्बों में हर रोज सुबह 9 बजे तक तो पूरे ही बाजार खुले नजर आते हैं। जबकि प्रशासन ने केवल मेडिकल, राशन, परचून व सब्जी की दुकानों के अलावा अन्य दुकानों पर पूरी पाबंदी लगा रखी है, लेकिन कस्बों में इन दुकानों को छोड़ अन्य दुकानवाले भी सुबह-सुबह दुकानदारी कर रहे हैं।

Lockdown: Softness seen after hardening

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned