चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को मिली टोल से मुक्ति

Medical department officials get relief from toll: जिला कलक्टर ने मानवीय पहलू को ध्यान में रख जारी किए आदेश

By: gaurav khandelwal

Published: 03 Jan 2020, 09:14 AM IST

दौसा. प्रदेश में दौसा जिले में नए वर्ष में दौसा जिले के चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग को टोल फ्री का तोहफा मिल गया है। अब चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को ड्यूटी पर जाते वक्त जिले के किसी भी राष्ट्रीय और राÓय मार्ग स्थित टोल बूथों पर टोल नहीं चुकाना पड़ेगा। जिला कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने मानवीय पहलू को ध्यान में रख कर यह आदेश जारी किया है।

Medical department officials get relief from toll


चिकित्सा विभाग के टोल मुक्त होने से मौसमी बीमारियों पर नियंत्रण में कसावट आएगी, वहीं विभाग के विभिन्न कार्यक्रमों की मॉनिटरिंग और मजबूत हो सकेगी। सीएमएचओ डॉ. पीएम वर्मा ने बताया कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की सेवाएं इमरजेंसी सेवाओं के तहत आती हैं। वर्तमान में मौसमी बीमारियां और सर्दी का प्रकोप अधिक होने से विभाग के अधिकारियों को जिले में बार-बार भ्रमण करना पड़ता है। ताकि फील्ड में आमजन को स्वास्थ्य सेवाएं सुलभ कराई जा सके और मॉनिटरिंग की जा सके।

इसके अलावा विभाग की ओर से सालभर में टीकाकरण, निरोगी राजस्थान आदि विभिन्न स्वास्थ्य गतिविधियों का आयोजन किया जाता है। ऐसे में टोल बूथों पर बार-बार टोल के कारण वाहन रोकना पड़ता था और शुल्क चुकाना पड़ता था। इससे काफी समय और धन बर्बाद हो रहा था। उन्होंने बताया कि विभागीय अधिकारियों की ओर से लंबे समय से उनके वाहनों को टोल मुक्त करवाने की मांग की जा रही थी। इसके लिए विभागीय अधिकारियों को अपना पहचान पत्र दिखाना होगा। इस सम्बन्ध में अधीक्षण अभियंता पीडब्ल्यू डी, अधीक्षण अभियंता एनएचएआई सहित समस्त टोल नाकों को आदेश की प्रति भेजकर सूचित कर दिया गया है।

Medical department officials get relief from toll

ताकि लोगों की जिंदगी दाव पर ना लगे


मानवीय पहलू को ध्यान में रखते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को जिले में टोल फ्री किया गया है। मौके पर टीम समय पर पहुंच सके और असमय किसी की जिंदगी दाव पर ना लगे।
अविचल चतुर्वेदी
जिला कलक्टर दौसा

प्राधिकरण का अनुमति पत्र लाना होगा


अभी तक हमारे पास ऐसे आदेश नहीं आए हैं।चिकित्सा विभाग केअधिकारियों को राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से अनुमति पत्र दिखाकर टोल पर आवेदन करना होगा। स्वीकृति के बाद उन्हें फास्ट टेग लेन से निकाला जाएगा।
वसुंधरा राव
जीएम, जयपुर महुवा टोल वे प्रा.लिमिटेड

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned