नौ घंटे बंद रहा फाटक, लोगों ने किया विरोध

लोग हुए परेशान

 

By: Mahesh Jain

Published: 15 Mar 2018, 09:21 PM IST

बसवा. रेलवे ट्रेक पर स्टेशन के पास वाले फाटक संख्या 151 पर मालगाड़ी खड़ी रहने से करीब 9 घंटे तक फाटक बंद रहा। गुरुवार को कस्बे के लोगों के विरोध करने पर मालगाड़ी को रवाना किया गया। जानकारी के अनुसार बुधवार रात को करीब 2 बजे अलवर की ओर से आई मालगाड़ी को स्टेशन पर खड़ा कर दिया गया।

 

फाटक स्टेशन के यार्ड में होने के कारण मालगाड़ी का अगला हिस्सा फाटक के सामने आ गया। इसके कारण फाटक बंद हो गया । लोको पायलट ड्यूटी का समय पूरा होने के कारण मालगाड़ी को छोड़कर चला गया। सुबह तक फाटक पर मालगाड़ी खड़ी रही। कस्बे के लोगों ने स्टेशन मास्टर रामसीया मीणा से फाटक खुलवाने की भी मांग की।

 

लोगों ने बताया की बुधवार से दसवीं व आठवीं की बोर्ड परीक्षा शुरू हो चुकी है, ऐसे में मालगाड़ी फाटक पर खड़ी रहने से उनको खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्टेशन मास्टर ने उच्च अधिकारियों को मालगाड़ी के सम्बन्ध में अवगत कराया इसके बाद बांदीकुई से दूसरे लोको पायलट व गार्ड आए और करीब 11 बजे बांदीकुई की ओर रवाना किया गया। इसके बाद फाटक खोला गया। इस मौके पर वार्ड पंच राधाकिशन मीणा , राजेन्द्र रामगुणी, श्यामलाल जांगिड़, मदनलाल शर्मा, दिनेश सैनी, मोहन सैनी, दिनेश प्रजापत व कमलेश आदि अन्य लोग मौजूद थे।


उल्लेखनीय है कि कस्बे में आए दिन फाटक बंद रहने से यहां के लोगों को खासी परेशानी भुगतनी पड़ रही है। फाटक बंद होने से ऐसा लगता है कि कस्बा मानो दो भागों में बंट गया है। अब बालकों की परीक्षाएं शुरू हो चुकी है। यदि परीक्षा जाते वक्त वाहनों पर जा रहे बालकों को फाटक बंद मिला तो उनके सामने और भी बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी।


श्रम विभाग कार्यालय खोलने की मांग

लालसोट . ब्लॉक स्तर के कई श्रमिकों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर श्रम विभाग के कार्यालय को ब्लॉक स्तर के मुख्यालय पर खोले जाने की मांग की है। श्रमिक सोनीराम मीना, भागीरथ, राजेश, छोटी लाल, रामखिलाड़ी, भजन लाल ने बताया कि श्रमिक डायरी के द्वारा जो सेवा लाभ दिया जाता है, वह जिला स्तर पर होने के कारण क्षेत्र की जनता को परेशानी होती है।

 

उन्होंने बताया कि कई श्रमिकों को शुभ शक्ति , छात्रवृत्ति एवं प्रसूति योजना का लाभ भी नहीं मिल पाया है। पात्र लोगों के खातों में राशि भी नहीं आई है। ऐसे में पात्र श्रमिको को भी दौसा मुख्यालय के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इससे समय व धन की बर्बादी होती है।

Mahesh Jain Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned