लग्न-टीका व मांडा आयोजन की नहीं छूट, नियम तोडऩे पर होगी एफआईआर

No exemption for organizing Lagna-Tika and Manda, FIR will be broken for breaking rules- जिला कलक्टर ने दिए निर्देश

By: gaurav khandelwal

Published: 26 Jun 2020, 08:29 PM IST

दौसा. जिले में संचालित गतिविधियां, कल्याणकारी योजनाओंं एवं आवश्यक सेवाओं की शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने समीक्षा की। उन्होंने उपखण्ड अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोरोना महामारी के दौरान जिले में आने वाले प्रवासी मजदूरों का डाटाबेस तैयार करें तथा समय पर रोजगार उपलब्ध करवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

No exemption for organizing Lagna-Tika and Manda, FIR will be broken for breaking rules


जिला कलक्टर ने सभी उपखण्ड अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले के विभिन्न क्षेत्रों में 29 व 30 जून को विशेष शादी समारोह आयोजित हो रहे हंै। सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण कर शादी समारोह संबंधित कार्यक्रमों को चिह्नित करवा लें तथा कार्यक्रम में 50 से अधिक की संख्या नहीं हो इसके लिये परिजनों को पाबन्द करें। सरकारी आदेशों व सरकार की एडवाइजरी की पालना नहीं करने वालेों के खिलाफ धारा 144 का उल्लंघन करने, सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को तोडऩे पर पुलिस में एफआईआर दर्ज कराएं। उन्होने बताया कि केवल शादी समारोह में 50 व्यक्तियों के आने की अनुमति मिल सकती है। इसके अलावा लग्न टीका व मांडा आयोजन के किए किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी जाएगी। इसके लिए शादी करने वालों को सूचित करें तथा ग्राम स्तरीय समिति को सक्रिय रहकर कार्य करने व समय पर सूचना देने के लिये पाबंद करें।

No exemption for organizing Lagna-Tika and Manda, FIR will be broken for breaking rules


विद्युत मरम्मत कार्य की रिपोर्ट मांगी
जिला कलक्टर ने मानसून के दौरान आकस्मिक दुर्घटनाओं से बचने के लिए पटवारी, गिरदावर, ग्राम विकास अधिकारी आदि से क्षेत्र में विद्युत संबंधित समस्याओं को चिह्नित करवाकर मरम्मत का कार्य पूर्ण कराने तथा कार्य का सत्यापन करवाकर रिपोर्ट भिजवाने को भी कहा। साथ ही जिले मेेंं प्रवासी श्रमिकों के पुनर्नियोजन के संबंध में सरकार के निर्देशों की पालना एवं कोविड -19 से संबंधित बिन्दुओं पर चर्चा यथा सैम्पलिंग, क्वारंटीन सेन्टर्स, चिकित्सा विभाग की अन्य योजनाओं की समीक्षा एवं एसयूडीएस द्वारा एसडीआरएफ, एमएलए फन्ड से किए गए व्यय के बारे में पूर्ण रिपोर्ट शीघ्र भिजवाने की बात कही। जन आधार कार्ड वितरण में लापरवाही बरतने वाले ई-मित्र संचालक के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश भी दिए। इस दौरान जिला परिषद सीईओ एलके बालोत, उपखण्ड अधिकारी दौसा पुष्कर मित्तल, सीएमएचओ डॉ. पीएम वर्मा, बिजली निगम के अधीक्षण अभियन्ता आर के मीना सहित कई जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

No exemption for organizing Lagna-Tika and Manda, FIR will be broken for breaking rules

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned