सुविधाओं में इजाफा नहीं, वसूल रहे हैं यूजर चार्ज

Patrika Changemaker campagin in mahwa: चेंजमेकर चुनावी चौपाल कार्यक्रम में रखी वार्ड के लोगों ने पीड़ा

महुवा. राजस्थान पत्रिका के चेंजमेकर्स अभियान में कस्बे के वार्ड 20 में सोमवार को चुनावी चौपाल कार्यक्रम आयोजित हुआ। चुनावी चौपाल में वार्डवाशिंदों ने पंचायत से नगरपालिका का दर्जा मिलने पर सुविधाओं में जो इजाफा होना चाहिए व नहीं हो पाया है। बल्कि यूजर चार्जेज में नाम पर अतिरिक्त बोझ डाल दिया गया है। अप्रेल 2017 में महुवा को पालिका का दर्जा मिला।

Patrika changemaker campagin in mahwa

इसके बाद जून 2019 से यूजर चार्ज लगा दिया। इसमें पालिका की ओर से करीब 76 सौ आवास एवं 22 सौ दुकानों का सर्वे कर चार्जेज के लिए चिह्नित कर करीब तीन लाख रुपए की राशि वसूल भी ली। इसमें आवासों से 40 व दुकानों से 150 रुपए प्रतिमाह वसूला जाता है। जब यूजर चार्जेज के नाम पर राशि ली जा रही है तो पालिका को वार्डों में विकास को गति देनी चाहिए। हालांकि लोगों का कहना है कि इस बार चुनाव में सहीं प्रत्याशी का चयन करेंगे। इससे उन्हें समस्याओं से निजात मिलने के साथ ही वार्ड का विकास हो सके।


खेलंती मीणा का कहना है कि वार्ड में पानी निकास की कोई व्यवस्था नहीं है। नालियों का अभाव होने से घरों से निकलने वाला गंदा पानी आम रास्तों में बहने से संक्रमण का अंदेशा रहता है। ऐसे में ड्रेनेज की समुचित व्यवस्था हो।
राजंती मीणा का कहना है कि कस्बे व वार्ड में प्रमुख समस्या पार्कों का अभाव है। जहां सुबह-शाम घूमने जा सकें। सामुदायिक भवनों का भी अभाव है। कोई धार्मिक आयोजन या शादी समारोह करते हैं तो मैरिज होम किराए पर लेने पर मोटा खर्चा होता है।


जगदीश प्रसाद ने बताया कि वार्ड में बिजली के खंभे क्षतिग्रस्त व आड़े - तिरछे लगे हुए हैं। इससे हादसा हो सकता है और आवागमन में भी परेशानी होती है। झूलते तारों की नियत समय पर मरम्मत करनी चाहिए।


मंगती शर्मा ने बताया कि कचरे का उठाव नहीं किया जाता है। तीन से चार दिन तक एक ही जगह कचरा पड़ा रहता है। इसके निस्तारण की भी कोई व्यवस्था नहीं है। इससे कस्बे व वार्ड का सौन्दर्यकरण भी बिगड़ रहा है।


धीरज कुमार ने बताया कि वार्डों में रात्रि प्रकाश की कोई समुचित सुविधा नहीं है। शाम होते ही अंधेरा छा जाता है। पालिका की ओर से विकास में भी भेदभाव बरता जाता है।


बोलने वाले पार्षद के वार्ड में विकास को अधिक गति मिल रही है। ऐसे में समानता के आधार पर विकास होना चाहिए।
अभिषेक का कहना है कि वार्ड के साथ ही कस्बे में उ"ा शिक्षण संस्था खुले। चिकित्सा व्यवस्था में सुधार होने के साथ ही सुविधाएं बढ़े। यहां सोनोग्राफी मशीन रखी है, लेकिन चालू नहीं है। ट्रोमा सेंटर होने के बाद भी मरीजों को सीधे रैफर कर दिया जाता है। ऐसे प्रत्याशी का चयन किया जाए तो इन समस्याओं को उठाए और समधान कराने के लिए प्रयासरत रहें। चौपाल में चन्नी मीणा, धापा देवी, चंदू हलवाई, नगेन्द्र कुमार, टीनू पंडित ने भी समस्याएं रखी।

Patrika Changemaker campagin in mahwa

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned