घर-घर गूंजेगा राम का नाम, भूमि पूजन को लेकर लोगों में उत्साह

People of the Dausa are enthusiastic about the Shri Ram temple- दीप जलाकर दिवाली जैसे वातावरण का निर्माण किया जाएगा

By: gaurav khandelwal

Published: 04 Aug 2020, 06:54 PM IST

दौसा. अयोध्या में बुधवार को होने वाले श्रीराम मंदिर भूमि पूजन को लेकर जिले के लोगों में खासा उत्साह है। कारसेवा में गए हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता विशेष उत्साहित हैं। वहीं घर-घर सत्संग, सुंदरकाण्ड व हनुमान चालीसा पठन आदि के कार्यक्रम होंगे। शाम को दीप जलाकर दिवाली जैसे वातावरण का निर्माण किया जाएगा।

People of the Dausa are enthusiastic about the Shri Ram temple

आरएसएस के विभाग प्रचार प्रमुख परमानंद शर्मा ने बताया कि कोरोना एडवाइजरी के मद्देनजर घरों पर रहकर बुधवार सुबह 11 से दोपहर 12.30 बजे तक श्रीराम जय राम जय जय राम, हनुमान चालीसा व सुंदरकाण्ड आदि का पठन किया जाएगा। शाम को न्यूनतम 5 दीपक प्रत्येक घर में जलाए जाने का आह्वान किया गया है।


परमानंद शर्मा ने बताया कि वे 1990 व 1992 में कारसेवक के रूप में अयोध्या गए थे। उस समय वे विहिप के जिला मंत्री थे। 22 जनों के साथ दौसा से मथुरा तक ट्रेन से गए। इसके बाद बसों में सवार हो गए। 1990 में पुलिस जाने नहीं दे रही थी तथा गिरफ्तारियां हो रही थी। बस में जैसे ही पुलिस चढ़ी तो सिगरेट खरीदकर मुंह से लगा ली, जबकि धूम्रपान सेवन नहीं करते थे। पुलिस ने सिगरेट देखकर सोचा कि यह विहिप का कार्यकर्ता नहीं हो सकता और छोड़ दिया। 5-6 दिन में करीब 150 किमी पैदल चलकर वहां पहुंचे। रास्ते में गांव के लोगों ने राइफलें देकर कहा था कि गोलियों का जवाब गोलियों से देना। वे जब मौके पर पहुंचे तो गोलीबारी हो चुकी थी। मकानों में सैकड़ों गोलियों के निशान देखे। इसी तरह 1992 में भी अयोध्या पहुंचे। कृष्णावतार गुप्ता, राजेन्द्र जैन, ओमप्रकाश शर्मा, रामेश्वर पापड़दा सहित कई लोग दौसा से गए थे।

इसी तरह सेवा भारती के प्रांतीय उपाध्यक्ष कैलाश गोठड़ा ने बताया कि राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है, यह बहुत खुशी की बात है। जीवन में आंखों के सामने ऐसा होता देख आंनद आ रहा है। जब वे कारसेवा में गए थे तो लोग मजाक करते थे कि मंदिर नहीं बनेगा। अब लोग कहते हैं को आप लोगों की मेहनत का ही परिणाम है। उन्होंने बताया कि वे 1990 व 92 दोनों बार कारसेवा में गए। 1992 में तो 15 दिन पहले पहुंच गए तथा स्कूलों में रहे। सरयू की मिट्टी लेकर कार सेवा करने गए। साथ में रामकिशोर बटवाल, एडवोकेट अभयशंकर शर्मा, दिनेश शर्मा, महेश कुमार सहित कई लोग थे।

पंच महादेवों व गेटोलाव की मिट्टी भेजी
दौसा के प्रसिद्ध पंच महादेव मंदिर व पवित्र गेटोलाव धाम की मिट्टी अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए भेजी गई है। दौसा अरबन कॉपरेटिव बैंक के चेयरमैन मदनलाल शर्मा ने बताया कि नीलकंठ, सोमनाथ, बैजनाथ, सहजनाथ व गुप्तेश्वर महादेव मंदिर सहित गेटालाव से मिट्टी लाकर बड़े लिफाफे में डाक से श्रीराम मंदिर की नींव में डालने के लिए भेजी गई है।

People of the Dausa are enthusiastic about the Shri Ram temple

Narendra Modi
gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned