बहनों ने भाइयों की कलाई पर बांधा रक्षा सूत्र

Raksha bandhan.... हर्षोल्लास से मनाया रक्षाबंधन पर्व, दिनभर बाजारों में रही भीड़

By: Rajendra Jain

Published: 16 Aug 2019, 12:45 PM IST


दौसा. भाई-बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन का पर्व जिले में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। बहनों ने भाइयों की कलाई पर राखी बांधकर दीर्घायु की कामना की, वहीं भाइयों ने भी नकदी व अन्य उपहार देकर बहन की रक्षा का संकल्प लिया।
Raksha bandhan.... दुकानों पर महिलाओं ने अपनी पसंद की राखियां खरीदी, वहीं पुरुषों ने भी नारियल, मिठाई, फल सहित अन्य सामानों की जमकर खरीदारी की। घरों में भी विभिन्न तरह के व्यंजन बनाए गए।
पुलिसकर्मियों ने भी महिलाओं व बेटियों से राखी बंधवाकर सुरक्षा का वचन दिया। रक्षाबंधन के त्योहार के उपलक्ष्य में बाजारों में दिनभर ग्राहकों की भीड़ लगी रही। इसके चलते वाहनों की रेलमपेल होने से शहर के प्रमुख मार्गों पर जाम के हालात बने रहे।
इस दौरान मिष्ठान भण्डार, फैन्सी स्टोर एवं राखी की दुकानों पर जमकर बिक्री हुई। बच्चों के लिए विभिन्न प्रकार के खिलौने एवं घड़ी वाली राखी आकर्षक का केन्द्र रही।


Raksha bandhan.... रोडवेज में रही महिलाओं की भीड़
दौसा. रक्षाबंधन पर्व पर राजस्थान रोडवेज की ओर से महिलाओं को दिए गए मुफ्त यात्रा के तोहफे का महिलाओं ने भी जमकर लाभ उठाया। सुबह से ही रोडवेज बसों में महिलाओं की खासी भीड़ रही। ऐसे में पुरुष यात्रियों को मजबूरन निजी वाहनों में अधिक किराया देकर यात्रा करनी पड़ी। मुफ्त यात्रा के तोहफे के चलते बसों में जगह नहीं होने के कारण अधिकतर बसें बायपास होकर ही निकल गई। इससे जिले की महिलाओं को बसों के इंतजार में घंटों आगार में खड़ा रहना पड़ा।
Raksha bandhan.... शहर के बस स्टैण्डों पर महिला यात्रियों की भीड़ देखकर पुरुष यात्री कलक्ट्रेट बायपास, सिकंदरा रोड बायपास व जयपुर रोड बायपास पहुंच गए, लेकिन वहां भी उन्हें महिलाओं के आगे बसों में जगह नहीं मिली।
आठ लाख का अतिरिक्त भार: मुख्य प्रबंधक ने बताया कि दिनभर में करीब आठ से दस हजार महिलाओं ने बसों में नि:शुल्क यात्रा की। इससे आगार पर करीब साढ़े आठ लाख रुपए का अतिरिक्त भार पड़ा है। हालांकि यह राशि सरकार की ओर से दी जाती है।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned