किसानों को सिखाए खेती के गुर

कृषि वैज्ञानिकों ने सिखाए तकनीकी खेती के गुर : Farmer

सिकराय. कृषि विभाग के तत्वावधान में शुक्रवार को सिकराय में किसान बच्चू लाल मीणा के फार्म हॉउस पर कृषक - वैज्ञानिक संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया। सहायक कृषि अधिकारी सिकराय अशोक कुमार मीना ने बताया की इसमें सिकराय क्षेत्र के किसानों को अधिकारियों एवं कृषि वैज्ञानिकों ने फसलों की उन्नत कृषि विधियों की तकनीकी जानकारी दी। Farmer


कार्यक्रम में सिकराय क्षेत्र के करीब 80 प्रगतिशील किसानों ने भाग लिया और कृषि सम्बंधित सवाल पूछे जिनका कृषि वैज्ञानिकों ने जवाब दिया। इस अवसर पर कृषि विज्ञान केन्द्र दौसा के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. बीएल जाट ने रबी फसलों की उन्नत कृषि विधियों की जानकारी दी। डॉ. जेके गुप्ता ने सरसों की फसल में मोयला, सफेद रोली रोग , दीमक व चने में फली छेदक कीट नियंत्रण की जानकारी दी गयी। Farmer

डॉ. फहतसिंह सैनी कृषि अधिकारी उद्यान दौसा ने सौलर सयंत्र , ग्रीन हाउस की जानकारी दी गयी। सहायक निदेशक उद्यान दौसा बद्रीनारायण मीना ने उद्यान विभाग की योजनाओं की जानकारी दी। सहायक कृषि अधिकारी दौसा धर्मसिंह गुर्जर ने जैविक खेती की उपयोगिता रि जानकारी दी। के बारे में जानकारी दी गयी । सहायक कृषि अधिकारी अशोक मीणा ने कृषि विभाग की जल हौज , फार्म पौंड , तारबंदी , कृषि यंत्र , पाइप लाइन आदि योजनाओं की जानकारी दी। Farmer


इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी सिकराय हरिताभ आदित्य ,कृषि पर्यवेक्षक मुकेश कुमार बैरवा, चेतन प्रकाश वर्मा , छोटेलाल बैरवा, छाजूलाल मीना, बच्चू लाल मीना , पंकज मीना , नीतू मीना, सीनू मीना , गिर्राज डोलिका , सुरेश जौपाड़ा, विश्राम मीना , बालस्वरूप , गजानन्द खटाना , चरण गुर्जर, रामजीलाल , दयानन्द वैरबा , रमशीराम , गंगल मीना ,महेश मीना व चंदन लाल मीना एवं अन्य कई किसान मौजूद रहे । Farmer


किसान संघ ने सौंपा ज्ञापन
बांदीकुई. भारतीय किसान संघ की ओर से शुक्रवार को मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी पिंकी मीणा को ज्ञापन सौंप कर किसानों की समस्याओं के समाधान की मांग की है। किसानों ने बताया कि सरकार की ओर से बिजली की दरें बढ़ा दी गई हैं। इससे किसानों पर आर्थिक बोझ बढ़ गया है। ऐसे में बढ़ी हुई दरें वापस ली जाए। Farmer

किसानों को दी जाने वाली रियायत को बिजली के बिलों में ही समायोजित करने, पानी की कमी को देखते हुए किसानों को सिंगल फेज का कनेक्शन जारी करने, किसानों का बैंक ऋण माफ करने, चरागाह भूमि से अतिक्रमण हटाने, नदियों से नदियों को जोड़कर पीने के लिए पानी व फसल सिंचाई की व्यवस्था करने, ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर गौशाला खोलने, किसानों को रियायती मकानों का मुआवजा देने के बाद छह माह की समयावधी देने की मांग की गई। इससे किसान दूसरे मकान का निर्माण कर सकें। Farmer


ज्ञापन सौंपने वालों में जिलाध्यक्ष रामनिवास मीणा, तहसील अध्यक्ष भगवानसहाय यादव, राधेश्याम पंडितपुरा, हीरालाल मीणा भांवता, द्वारकाप्रसाद, फूलसिंह, जिला युवा प्रमुख धर्मेन्द्र शर्मा, नंदलाल, रमेशचंद, रत्तीराम नीलोज एवं गोपीराम मीणा शामिल थे। Farmer

Rajendra Jain Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned