कार्रवाई से घबराए भूखण्ड मालिक, अपने स्तर पर तुड़वाए पक्के निर्माण

गौरव पथ निर्माण का मामला

By: gaurav khandelwal

Published: 10 Feb 2018, 09:21 AM IST

दौसा. नगर परिषद की ओर से चलाए जा रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान की कार्रवाई से बचने के लिए शुक्रवार को लोगों ने अपने स्तर पर ही मकानों व दुकानों के आगे किए निर्माणों को मजदूर लगाकर ध्वस्त करा दिया। गौरतलब है कि शहर के गुप्तेश्वर रोड पर प्रस्तावित गौरव पथ में बाधक बन रहे कच्चे-पक्के निर्माणों को नगर परिषद व सार्वजनिक निर्माण विभाग के दल ने गुरुवार को संयुक्त कार्रवाई करते हुए जेसीबी से ध्वस्त कराया था। इसमें कई भवनों व प्रतिष्ठानों को भी ध्वस्त कराया गया था।

 

 

दूसरे दिन भी विभागों द्वारा कार्रवाई किए जाने की भनक मिलने पर लोगों ने अपने स्तर पर अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया। शुक्रवार को गुप्तेश्वर रोड पर आलम यह था भवन व दुकानों के मालिक सुबह से ही मजदूर लगाकर एक तरफ सड़क की चालीस फीट की दूरी में आ रहे निर्माणों को अपने स्तर पर तुड़वाते नजर आए। कुछ व्यापारियों ने दुकानों के आगे लगे टीनशैड को हटवा लिया। ताकि कार्रवाई में होने में होने वाले भारी नुकसान से बचा जा सके।

 

 

लोगों का कहना था कि गुप्तेश्वर रोड से लालसोट बायपास तक गौरव पथ निर्माण सरकार की अच्छी पहल है, लेकिन स्थानीय प्रशासन द्वारा पूर्व में सूचित कर दिया जाता तो गुरुवार को की गई कार्रवाई में लोगों को इतना नुकसान नहीं उठाना पड़ता। उनका कहना था कि परिषद प्रशासन ने सड़क के एक तरफ चालीस फीट दूरी में आ रहे निर्माणों को ध्वस्त कराने का न कोई नोटिस जारी किया और ना ही कोई इस बारे में अवगत कराया। कुछ लोगों के पास जमीनों की रजिस्ट्री भी है।

 


आरटीओ कार्यालय के बाहर से हटाए थड़ी-ठेले


दौसा. कलक्ट्रेट चौराहे के समीप प्रादेशिक परिवहन कार्यालय के बाहर लगे एजेंटों के काउंटर एवं लोगों के थड़ी ठेलों का अतिक्रमण शुक्रवार को नेशनल हाइवे टोल कम्पनी की टीम ने हटा दिया है। आरटीओ कार्यालय के बाहर एजेंटों के काउंटर एवं थड़ी ठेलों से वहां जाने वाले लोगों को वाहन खड़ा करने के लिए जगह नहीं मिल रही थी। वहीं हाइवे पर हादसे की भी सम्भावना बनी रहती थी। अतिक्रमण हटाने के बाद कार्यालय के बाहर जगह खुली-खुली नजर आ रही है।

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned