विरोध के कारण तीन घंटे श्मशान में रखा रहा शव

The body was kept in the crematorium for 3 hours due to the protest- कालेड़ गांव का मामला

By: gaurav khandelwal

Updated: 18 Jun 2020, 06:33 PM IST

बसवा. कस्बे के पास कालेड़ गांव में एक पक्ष के विरोध के कारण करीब तीन घंटे तक शव श्मशान में रखा रहा। प्रशासन के समझाने के बाद भी रास्ता नहीं निकला। आखिर में शव को मृतक के खेत में दफनाया गया। जानकारी के अनुसार कालेड़ निवासी रामचरण योगी (98) की बुधवार रात को मौत हो गई। मृतक के घर के समीप ही अन्य के मकान के सामने मिट्टी दाह संस्कार करने लगे तो लोगों ने विरोध कर दिया। इस पर शव को बंध की पाल पर बने अस्थाई श्मशान घाट पर ले गए। बंध की पाल पर गैरमुमकिन जमीन पर लोगों ने श्मशान घाट बना रखा है। वहां मिट्टी दाह करने के लिए गड्ढा खोदने लगे तो दूसरे पक्ष ने विरोध करना शुरू कर दिया ओर खोदे गए गड्ढे में कांटे लाकर डाल दिए। दोनो पक्षों के सैकड़ों महिला-पुरुष आमने-सामने हो गए।

The body was kept in the crematorium for 3 hours due to the protest


मौके पर तहसीलदार ओमप्रकाश गुर्जर, पुलिस वृताधिकारी संजयसिंह, थाना प्रभारी रामशरण, सरपंच श्रीराम मीणा व अन्य प्रबुद्धजनों ने लोगों को समझाने का प्रयास किया। लोगों ने प्रशासन से कहा कि जोगी समाज को मिट्टी दाह संस्कार करने के लिए ज्यादा जमीन चाहिए। इस पर प्रशासन ने समाज के लिए अलग से डेढ़ बीघा जमीन श्मशान के लिए आवंटित करने की बात कही। इस पर लोग श्मशान घाट में मिट्टी दाह संस्कार के लिए राजी हो गए, लेकिन मृतक के पृत्र गिर्राज योगी ने श्मशान घाट पर मिट्टी दाह करने के लिए मना कर दिया। उसका कहना था कि बाद में चबूतरा बनाने पर विवाद होगा, ऐसे में खेत पर ले जाकर मिट्टी दाह संस्कार किया। सुबह साढ़े से साढ़े ग्यारह बजे तक यह विवाद चला।


महिलाओं ने रोकी प्रशासन की गाड़ी
गांव में जोगी समाज की महिलाएं रोड पर प्रशासन के वाहनों के आगे खड़ी हो गई। उन्होंने प्रशासन पर आरोप लगाया कि शव श्मशान भूमि पर रखा हुआ है। लोगों ने जगह-जगह अतिक्रमण कर रखा है, फिर भी प्रशासन कुछ नहीं कर रहा। महिलाओं ने कहा कि पूर्व में भी श्मशान भूमि के लिए ज्ञापन दे चुके, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। तहसीलदार ने महिलाओं को समझाकर शांत किया।

The body was kept in the crematorium for 3 hours due to the protest

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned