Video: मुम्बई से आया फोन तब दौड़ी पुलिस, एटीएम हैक कर रुपए ले जाते दो जनों को पकड़ा

gaurav khandelwal

Publish: Dec, 15 2017 09:20:09 AM (IST)

Dausa, Rajasthan, India
Video: मुम्बई से आया फोन तब दौड़ी पुलिस, एटीएम हैक कर रुपए ले जाते दो जनों को पकड़ा

नाइजीरिया से मिलते हैं पासवर्ड, उड़ीसा सहित प्रदेश में कई वारदातें खुलने की आशंका

दौसा. जिला मुख्यालय के लालसोट रोड स्थित एक्सिस बैंक के एटीएम के हुड को मास्टर चाबी से खोल कर उसको हैक कर नाइजीरिया से ऑनलाइन पासवर्ड मंगवा कर अस्सी हजार रुपए निकाल कर ले जाते दिल्ली व उड़ीसा के दो युवकों को कोतवाली थाना पुलिस ने बुधवार रात करीब 3 बजे दबौच कर गिरफ्तार कर लिया है। इस गैंग के तार नाइजीरिया से भी जुड़े हैं।

 


राजस्थान में एटीएम को हैक कर नए तरीक से रुपए निकालने का यह पहला मामला सामने आया है। हालांकि इस गैंग के ये सदस्य उड़ीसा में भी कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। दरअसल इन युवकों ने जब एटीएम से छेड़छाड़ की तो मुम्बई ई-सर्विलेंस पार्टनर मैसर्स सिक्योरेंस सिस्टम प्राइवेट लिमिटेड मुम्बई से सीधा फोन कोतवाली थाने में आया तो पुलिस ने दौड़ लगाई और दोनों आरोपितों को दबोच लिया। जिन आरोपितों को गिरफ्तार किया है वे दिल्ली के लक्ष्मीनगर निवासी अजय कुमार सिंह एवं उड़ीसा निवासी अमित त्रिपाठी है।

 


कोतवालीथाना प्रभारी मदन जेफ ने बताया कि लालसोट रोड स्थित पोस्ट ऑफिस के बगल में लगे एक्सिस बैंक के एटीएम में दिल्ली के लक्ष्मीनगर निवासी अजय कुमार सिंह एवं उड़ीसा निवासी अमित त्रिपाठी घुस गए। इसके बाद उन्होंने एटीएम को हैक कर ऑनलाइन नाइजीरिया से पासवर्ड मंगवा कर 80 हजार रुपए निकाल लिए। एटीएम से छेड़छाड़ की तो मुम्बई ई-सर्विलेंस पार्टनर मैसर्स सिक्योरेंस सिस्टम प्राइवेट लिमिटेड मुम्बई से सीधा फोन कोतवाली थाने में आया। इस पर ड्यूटी अधिकारी रघुराज सिंह, कांस्टेबल बनवारीलाल, विजय कुमार एवं चालक शिवरतन की टीम एटीएम पर पहुंची।

 


इसके बाद पुलिस की टीम ने एक स्कूटी पर घूम रहे इन दोनों युवकों से पकड़ कर पूछताछ की तो वे हड़बड़ा गए और उनको गिरफ्तार कर लिया। इधर एक्सिस बैंक शाखा प्रभारी बृजेश पारीत ने कोतवाली थाना पुलिस को रिपोर्ट दी है। रिपोर्ट में बताया कि एटीएम में 10 लाख 24 हजार रुपए थे। जिनमें से आरोपितों ने 80 हजार रुपए तो निकाल लिए।

 


मास्टर चाबी से खोला एटीएम का हुड
कोतवालीथाना प्रभारी ने बताया कि आरोपित अपने पास मास्टर चाबी रखते हैं। दौसा के एक्सिस बैंक में भी आरोपितों ने अपनी मास्टर चाबी से एटीएम के हुड को खोल लिया। इसके बाद उन्होंने हुड की हार्डडिस्क में एक पेन ड्राइव लगाई। पेन ड्राइव में एटीएम के डाटा स्केन कर लिए। बाद में इन डाटा को अपनी नाइजीरिया की गैंग के पास ऑनलाइन भेज कर वहां से पासवर्ड मंगवाकर एटीएम के की-बोर्ड से रुपए निकालने की प्रोसेस की। इसके बाद एटीएम से जितने रुपए चाहे उतने निकाल लेते हैं।

 


ऑनलाइन का है खेल
दिल्ली निवासी अजय कुमार की उड़ीसा के अमित त्रिपाठी से फेसबुक पर ऑनलाइन दोस्ती हो गई। अजय तो इस धंधे में पहले से जुड़ा था। इधर उड़ीसा निवासी अमित बीटेक का छात्र था। अमित को रोजगार की तलाश थी। ऐसे में इन दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई। पुलिस ने बताया कि इन युवकों का ऑनलाइन ही नाइजीरिया की गैंग से सम्पर्क हो गया। नाइजीरिया की गैंग ने इनको एटीएम हैक कर रुपए निकालने का तरीका बता दिया। ऐसे में इन युवकों ने उड़ीसा में भी कई जगह स्कूटी पर घूमकर ही वारदातों को अंजाम दिया। अन्य वारदातों व जुड़े तार को लेकर पुलिस की पूछताछ जारी है।

 


...तो काहे की वाहवाही लूट रही पुलिस


इधर, पुलिस इस मामले में दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर वाहवाही तो लूट रही है, लेकिन हकीकत यह हैकि वारदात स्थल कोतवालीथाने से मात्र दो-ढाई सौ मीटर ही दूर है। चोर काफी देर तक एटीएम में छेड़छाड़ कर रुपए निकालने का प्रोसेस करते रहे, लेकिन थाने की गश्ती टीम को भनक नहीं लगी। यदि मुम्बई से फोन नहीं आता तो आरोपित पूरे सवा 10 लाख रुपए निकाल ले जाते।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned