सीताराम व गोपालजी मंदिर से झालर चोरी

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: gaurav khandelwal

Published: 29 Mar 2019, 08:10 AM IST

गुढ़लिया-अरनिया. ग्राम पंचायत अरनिया में स्थित सीतारामजी एवं गोपालजी के मंदिर के दरवाजे का ताला तोड़कर चोर झालर पार कर ले गए। घटना का पता बुधवार शाम श्रद्धालुओं के आरती के लिए मंदिर पहुंचने पर झालर गायब मिलने पर लगा। पं.सीताराम शर्मा ने बताया कि गोपालजी के मंदिर से दो झालर एवं सीताराम मंदिर से एक झालर चोरी हो गई। सूचना पर ग्रामीण भी मौके पहुंचे।

 

 

जहां चोरी की घटना को लेकर आक्रोश जताया। ग्रामीणों ने बताया कि मंदिर आबादी क्षेत्र में होने के बाद भी चोर झालर चुराने में सफल हो गए। हालांकि इस सम्बंध में देर शाम तक थाने में मामला दर्ज नहीं हुआ है। इस मौके पर जगदीश गुर्जर, रामोतार गुर्जर, पप्पू प्रजापत, मोहरसिंह गुर्जर, शिवलाल प्रजापत, भूरसिंह गुर्जर, कमल जांगिड़ व उदयसिंह ने भी मंदिर पहुंच विरोध जताया।

 

 


कार्रवाई से दुकानदारों में मचा हड़कम्प

 


नांगलराजावतान. उपखण्ड मुख्यालय पर गुरुवार को चिकित्सा विभाग की टीम ने गुटखा तम्बाकू बेचने के नियमों का पालना नहीं करने पर एक दर्जन दुकानदारों के चालान काटे। इससे दुकानदारों में हड़कम्प मच गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी महेन्द्र चतुर्वेदी ने बताया कि गुटखा तम्बाकू बेचने के नियमों का पालन नहीं करने पर टीम ने नांगल राजावतान में एक दर्जन दुकानदारों पर कार्रवाई की।

 

 

टीम ने कोटपा अधिनियम 2003 के तहत एक दर्जन दुकानदारों के चालान बनाए।टीम पहुंचने की भनक जैसे ही लगी तो दुकानदारों में हड़कम्प मच गया। अधिकतर दुकानदारों ने गुटखे व तम्बाकू उत्पादनों को छुपा दिया गया। टीम में डॉ. रविन्द्र पोषवाल, डॉ. अकित खण्डेलवाल, खाद्य सुरक्षा अधिकारी जयसिंह आदि मौजूद थे।

 

 

 

मारपीट के दो मामलों में एक दर्जन आरोपियों को सजा

 


लालसोट. शहर के मुसिंफ मजिस्टे्रट न्यायालय ने करीब नौ साल पूर्व हुए मारपीट के दो अलग-अलग मामलों एक दर्जन आरोपियों को दोषी करार देते हुए उन्हें अलग अलग सजा से दंडित किया है। सहायक अभियोजन अधिकारी कानाराम मीना ने बताया कि माह दिसम्बर 2010 में बाढ़ देहलाल गांव निवासी परिवादी हरलाल मीना ने भगवानसहाय, सीताराम, रामजीलाल, फूलचंद, जगदीश ग्यारसीलाल, लल्लू व मीठालाल सभी निवासी बाढ़ देहलाल के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया था।

 

 

पुलिस अनुसंधान के बाद चार्जशीट पेश की गई। अभियोजन पक्ष की ओर से 13 गवाह पेश किए। इस पर न्यायिक मजिस्ट्रेट मुकेश सांवरिया ने सभी आरोपियों को एक-एक वर्ष का कारावास व 5-5 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा से दंडित किया गया है। सहायक अभियोजन अधिकारी ने बताया कि इसी तरह माह फरवरी 2011 में परिवादी कांजी गुर्जर निवासी डिगो द्वारा गुजरमल, हरसहाय, बच्चूसिंह एवं भोंडा उर्फ भंवरसिंह सभी निवासी बीड़ की ढाणी डिगो के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया था।

 

 

इस पर पुलिस अनुसंधान के बाद चार्जशीट पेश की गई और अभियोजन पक्ष की ओर से 9 गवाह पेश किए।न्यायिक मजिस्ट्रेट मुकेश सांवरिया ने सभी आरोपियों को दो-दो वर्ष का कारावास व 1-1हजार रुपए के अर्थदंड की सजा से दंडित किया है।(नि.प्र.)

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned