तीन दिवसीय गणेश महोत्सव का हुआ आगाज

तीन दिवसीय गणेश महोत्सव का हुआ आगाज

Gaurav Kumar Khandelwal | Publish: Sep, 12 2018 07:48:15 AM (IST) Dausa, Rajasthan, India

 

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

 

बांदीकुई. शहर के भाण्डेड़ा रोड स्थित गणेश मंदिर में गणेश चतुर्थी पर आयोजित होने वाले तीन दिवसीय गणेश महोत्सव का आगाज मंगलवार को संत फलहारीदास व संत दिव्यानंद के सानिध्य में हुआ। सुबह बालाजी मंदिर में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ ध्वज एवं कलश पूजन किया गया। इसके बाद कलश यात्रा मंदिर से रवाना होकर आगरा फाटक, पीडब्ल्यूडी तिराहा, राज बाजार, हाई स्कूल चौक होते हुए गणेश मंदिर पहुंची।

 

 

कलश यात्रा में महिलाएं सिर पर मंगल कलश रखकर भजन गाते हुए एवं पुरुष हाथों में ध्वज लेकर गणेशजी महाराज के जयघोष लगातो हुए चल रहे थे। भजनों पर श्रद्धालु नाचते हुए चल रहे थे। भक्ति संगीत की मधुर ध्वनी से समूचा वातावरण भक्तिमय हो गया। कलश यात्रा का कई जगहों पर पुष्प वर्षा कर एवं मीठा पानी पिलाकर स्वागत किया गया।

 

 

इसके बाद दोपहर को नानी बाई का मायरा कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसमें आस-पास के काफी संख्या में लोगों ने शिरकत की। वहीं गणेशजी महाराज की झांकी सजाई गई। इस मौके पर संतोष बड़ाया, मानसिंह भाण्डेड़ा, मनीष पाठक, नीरज रावत, सोनू जाखड़, हनुमान सेठी, सुरेन्द्र पोषवाल, इंजीनीयर वेदप्रकाश शर्मा, मक्खन नीलोज, शेषावतार शर्मा, ब्राह्मण समाज अध्यक्ष राधारमण तिवाड़ी, एडवोकेट विष्णु शर्मा, शशिकांत शास्त्री, पप्पू गुर्जर, गोपाल गुर्जर, भागचंद गुप्ता, निक्की मिश्रा, विक्रम पोषवाल एवं बाबू पोषवाल भी मौजूद थे। इस दौरान मंदिर परिसर में भी रंगबिरंगी पताकाओं से दुल्हन की तरह सजाया गया।

 

 

ये होंगे कार्यक्रम


संत दिव्यानंद ने बताया कि बुधवार सुबह 8 बजे गणेशजी का अभिषेक व हवन एवं दोपहर को नानीबाई का मायरा, दोपहर 2 बजे पंचायत समिति परिसर से शोभायात्रा निकाली जाएगी। शोभायात्रा में हाथी, ऊंट, घोड़े, वृंदावन, महाराष्ट्र एवं नागपुर के कलाकारों द्वारा जीवंत झांकियों की प्रस्तुति दी जाएगी। जो कि मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहेगी। शोभायात्रा अम्बेडक़र सर्किल, नगरपालिका के सामने, स्टेशन रोड, आगरा फाटक, राज बाजार, पीडब्ल्यूडी तिराहा, हाईस्कूल चौक होते हुए गणेश मंदिर पहुंचेगी।

 

शोभायात्रा का दर्जनों स्थानों पर पुष्प वर्षा कर व द्वार लगाकर स्वागत किया जाएगा। वहीं शाम 7 बजे रेवाड़ी व दिल्ली के कलाकारों द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। इसी कड़ी में 13 सितम्बर को आगरा व कानपुर के कलाकारों द्वारा बाबा बर्फानी की झांकी सजाई जाएगी। शाम को मथुरा कलकत्ता, हरियाणा, दिल्ली, रेवाड़ी, वृंदावन एवं नागपुर के कलाकार भजनों की प्रस्तुति देंगे।

 

मध्य रात्रि को गोपाल बगीची भक्ति आश्रम, नरसिंह मंदिर, बालाजी मंदिर एवं राधावल्लभ मंदिर से कनकदण्डवत परिक्रमाएं शुरू होंगी। जो कि गणेश मंदिर पहुंचेगी। जहां गणेशजी महाराज की फूल बंगला झांकी एवं ५६ भोग की झांकी सजाई जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned