एटीएम से रुपए निकालने वाली गैंग के दो आरोपी गिरफ्तार

Two accused of gang extorting money from ATM arrested -कई जिलों में दे चुके हैं घटनाओं को अंजाम

By: Rajendra Jain

Published: 08 Dec 2019, 08:56 PM IST

बांदीकुई. थाना पुलिस ने केन्द्रीय कारागृह जयपुर से प्रोडेक्शन वारंट पर एटीएम से रुपए निकालने वाली गैंग के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने बांदीकुई सहित कई जिलों में स्कीमर व प्लेट लगा क्लोन बनाकर एटीएम से रुपए निकालने की वारदातों को अंजाम देना कबूला है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 25 हजार रुपए की नकदी एवं दो फर्जी एटीएम बनाने के काम में लिए जाने वाले कार्ड भी जब्त किए हैं। आरोपियों से पूछताछ में खातों से रुपए पार होने की बड़ी घटनाओं का खुलासा होने की उम्मीद है।
थाना प्रभारी राजेन्द्रकुमार मीणा ने बताया कि 2 नवम्बर 2019 को रामावतार बोहरा निवासी पंचायत समिति के पीछे ने मामला दर्ज कराया कि उसका खाता एसबीआई बैंक में है और एटीएम जारी करवा रखा है। गत 28 अक्टूबर को माधोगंज मण्डी स्थित एटीएम से 10 हजार रुपए निकलवाए। इसके बाद एटीएम का उपयोग नहीं किया। रात्रि को खाते से 20 हजार एक बार एवं 10 हजार दो बार सहित कुल 40 हजार रुपए निकाले जाने का मोबाइल पर मैसेज आया। इसके कुछ ही देर बाद 0141-2822422 से फोन आया और खाते से राशि निकालने की जानकारी देते हुए एटीएम ब्लॉक करने की अनुमति मांगी। रुपए गायब होने पर एटीएम ब्लॉक करवा दिया। इसके बाद बैंक जाकर जानकारी की तो पता चला कि फर्जी ट्रांजेक्शन हिण्डौन सिटी करौली के एटीएम से हुआ है।
पीडि़त ने बताया कि उसका एटीएम तो उसके पास है फिर रुपए कैसे निकाले गए तो बैंक प्रशासन ने बताया कि आपके एटीएम को क्लोन कर छल करने के प्रयोजन से अज्ञात व्यक्ति ने फर्जी एटीएम तैयार कर आपके खाते से राशि चुराई है। इसी प्रकार 28 अक्टूबर को ही पुरानी अनाज मण्डी स्थित एटीएम से महेन्द्र गुर्जर नानगवाड़ा के खाते से 20 हजार, कमलेशचंद प्रजापत निवासी आभानेरी के खाते से 31 अक्टूबर को 14 हजार, पुरुषोत्तमलाल महाजन निवासी वार्ड 22 बांदीकुई के खाते से 1 नवम्बर को 40 हजार रुपए एवं 2 नवम्बर की मध्य रात्रि को आकाश कुमार बैरवा निवासी हाई स्कूल के पीछे से 11 हजार 500 रुपए राशि एटीएम से निकाली गई। इस मामले में आरोपी हिमांशु मीणा निवासी नगल सुल्तानपुर थाना बालघाट करौली व कैलाश मीणा निवासी नगल भोलू की कोठी थाना बालघाट जिला करौली को जवाहर सर्किल जयपुर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया। जहां से प्रोडेक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया गया है।

इन जगहों पर दिया वारदातों को अंजाम
पुलिस ने वारदात को ट्रेसआउट करने के लिए गोपनीय तरीके से सूचना संकलित की। वहीं तकनीकी संसाधनों की मदद से आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास किया। इसी बीच आरोपी हिमांशु मीणा निवासी नगल सुल्तानपुर थाना बालघाट करौली व कैलाश मीणा निवासी नगल भोलू की कोठी थाना बालघाट जिला करौली को जवाहर सर्किल जयपुर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया और मनौवैज्ञानिक तरीके से गहनता से पूछताछ की गई तो आरोपियों ने 28 अक्टूबर को माधोगंज मण्डी एटीएम में स्मीकर व प्लेट लगाकर ग्राहकों का रिकॉर्ड प्राप्त कर उनके एटीएम का क्लोन विकसित कर रुपए निकालना स्वीकारा। इसके अलावा हिण्डौन सिटी जिला करौली, महुवा व मण्डावर, अलवर शहर के एटीएम से 1 लाख 25 हजार 500 रुपए की वारदात करना स्वीकार किया। आरोपियों ने वैर, भरतपुर शहर, बांदीकुई एवं जयपुर में भी वारदातों को अंजाम दिया है। इनसे पूछताछ में बड़ा खुलसा होने की उम्मीद है।

ये थे टीम में शामिल
थाना प्रभारी बताया कि पुलिस अधीक्षक प्रहलादसिंह कृष्णियां व एएसपी अनिल चौहान के निर्देशन व पुलिस वृत्ताधिकारी महेश शर्मा की देखरेख में टीम गठित की गई। टीम में सहायक उपनिरीक्षक विजयकुमार, हैड कांस्टेबल समयसिंह, कांस्टेबल भगवानसहाय, नेमीचंद शर्मा, राजेश एवं मोहनसिंह को शामिल किया गया।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned