बिल जमा नहीं होने पर ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

कनिष्ठ अभियन्ता कार्यालय पर ताल लटका मिला।

By: gaurav khandelwal

Published: 24 May 2018, 09:19 AM IST

लवाण. कस्बे में बिल जमा करने वाले तय तिथि व समय पर नही आने से दूर-दराज से आए किसानों ने जीएसएस के बाहर प्रदर्शन कर नार लगाए।ग्रामीणों ने बताया कि करीब दो सौ बिलो की जमा होने की तारीख 23 जून थी, लेकिन बुधवार सुबह साढ़े दस बजे तक कोई भी कर्मचारी नहीं आया। ग्रामीणों ने बताया कि बिल जमा कराने के लिए वे सुबह बिना नाश्ता किए ही आ गए, लेकिन दस बजे तक कनिष्ठ अभियन्ता कार्यालय पर ताल लटका मिला। कैलाश देवरी, मोहनपुरा रिंकू, विष्णु खानवास, रामअवतार पीपल्या ने बताया कि धूप में इन्तजार करके बिना बिल जमा कराए ही वापस जाना पड़ा। सहायक अभियन्ता एमके.गुप्ता ने बताया कि बिल जमा करने वाले कर्मचारी को किसी कारण से देरी हो गई होगी।

 


पानी की समस्या से ग्रामीण त्रस्त


कुण्डल. ग्राम पंचायत कोलवा के गोला की ढाणी में पेयजल समस्या के चलते बुधवार को ग्रामीणों का गुस्सा फूट पडा। ग्रामीणों ने खाली बर्तनों के साथ ग्राम पंचायत प्रशासन और जलदाय विभाग सहित जनप्रतिनिधियों के खिलाफ नारे लगाकर प्रदर्शन किया।
गुलाब देवी, कस्तूरी देवी, चमेली देवी ने बताया कि उनकी ढाणी में पेयजल का एकमात्र स्रोत एक हैंडपम्प है। इस कारण दो उन्हें किमी. दूर स्थित जामा गांव से पानी लाकर प्यास बुझानी पड़ रही है।

 

लाली देवी, भूली देवी, कजोड़ी देवी बैरवा ने बताया कि इस बारे में कई बार अधिकारियों को अवगत करा दिया, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। प्रहलाद, सुरेश, दिनेश बैरवा ने बताया कि उन्हे नहाने और भैंसों को पानी पिलाने के लिए जामा गांव या कोलवा जाना पडता है। छात्रा सुमन, किरण, करिश्मा बैरवा ने बताया कि उन्हें दिन निकलने से पूर्व और शाम के समय कई चक्कर लगाकर दो किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ता है। मांगीलाल, खैराती, हरदयाल बैरवा का कहना है कि यदि ढाणी में पेयजल समस्या बरकरार रही तो वे इस वर्ष होने वाले चुनावों में मतदान नहीं करेंगे। पवन, रामधन बैरवा का कहना है कि पांच दिन में किसी प्रकार की पेयजल व्यवस्था नहीं हुई तो वे आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

gaurav khandelwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned