देश को मिले 347 सैन्य अधिकारी, यहां देंखे किस राज्य के कितने युवा बने भारतीय सेना का हिस्सा

देश को मिले 347 सैन्य अधिकारी, यहां देंखे किस राज्य के कितने युवा बने भारतीय सेना का हिस्सा

Prateek Saini | Publish: Dec, 08 2018 06:54:17 PM (IST) Dehradun, Dehradun, Uttarakhand, India

पासिंग परेड में युवा सैन्य अधिकारियों ने देश की आन, बान और शान के लिए अपना सब कुछ न्यौछावर करने का जज्बा दिखाया...

(पत्रिका ब्यूरो,देहरादून): भारतीय सैन्य अकादमी में आयोजित पासिंग परेड में ‘अंतिम पग’ कर कुल 427 कैडेट्स सैन्य अधिकारी बन गए, जिसमें 347 भारतीय व सात मित्र देशों के 80 कैडेट्स शामिल हैं। पासिंग परेड में युवा सैन्य अधिकारियों ने देश की आन, बान और शान के लिए अपना सब कुछ न्यौछावर करने का जज्बा दिखाया।


खुशी से झूम उठे युवा

 

army

शनिवार को आईएमए में आयोजित पासिंग आउट परेड में बतौर मुख्य अतिथि थल सेना के लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अंबु ने परेड की सलामी ली। ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा’ की धुन पर कदमताल करते हुए कुल 427 जेंटलमैन कैडेट्स अंतिम पग कर सेना का हिस्सा बन गए। पीआेपी में वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अंबू ने जैंटलमैन कैडेट अर्जुन ठाकुर को स्वार्ड ऑफ ऑनर और गोल्ड मेडल से नवाजा। साथ ही जैंटलमैन कैडेट गुरविंदर सिंह को सिल्वर मेडल मिला। इसके अलावा जैंटलमैन कैडेट हर्ष बंसीवाल ने सिल्वर एवं गुरुवंश सिंह घोषाल को ब्रॉन्ज मेडल से सम्मानित किया गया।


किसने दिए कितने सैन्य अधिकारी

इस साल पीआेपी में सबसे ज्यादा 53 सैन्य अधिकारी उत्तर प्रदेश ने दिए। वहीं हरियाणा के 51, बिहार 36, उत्तराखंड के 26, दिल्ली के 25, महाराष्ट्र के 20, हिमाचल प्रदेश के 15, पंजाब के 14, राजस्थान व जम्मू—कश्मीर के 12—12, मध्य प्रदेश के 10, कर्नाटक, केरल, प. बंगाल के आठ-आठ, झारखंड के छह, असम, उड़ीसा, तमिलनाडु व तेलंगाना के पांच—पांच, आंध्र प्रदेश, गुजरात, चंडीगढ़, मणिपुर के तीन—तीन, मणिापुर के दो, मेघालय व पुडुचेरी के एक-एक सैन्य अधिकारी देश को दिए। इसके अलावा सात मित्रों देशों में अफगानिस्तान के सर्वाधिक 49, भूटान के 15, मालदीप व तजाकिस्तान के पांच—पांच, नेपाल, श्रीलंका व वियतनाम के दो—दो कैडेट्स अपने—अपने देशों के सैन्य अधिकारी बने। पीआेपी के चलते राजधानी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे।

Ad Block is Banned